Home » , , » कश्मीर वार्ताकार भी मांग रहे कश्मीर के लिए आज़ादी ?

कश्मीर वार्ताकार भी मांग रहे कश्मीर के लिए आज़ादी ?

जम्मू-कश्मीर के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा नियुक्त तीन वार्ताकारों की टीम ने एक और विवादास्पद बयान दिया है। वार्ताकारों में शामिल राधा कुमार ने भारतीय संविधान में संशोधन किए जाने की तरफ इशारा करते हुए कहा है कि संविधान में कश्मीर के लिए 'आज़ादी का विकल्प' होना चाहिए।

बुधवार को तीन वार्ताकारों की टीम ने घाटी की चार दिनों की यात्रा पूरी कर ली। यात्रा की समाप्ति पर मीडिया से बातचीत करते हुए राधा कुमार ने कहा, 'भारतीय संविधान एक शानदार दस्तावेज है और उसमें बदलते वक्त के साथ बदलाव की गुंजाइश है। और हम संविधान में संशोधन की सिफारिश भी कर सकते हैं ताकि कश्मीर के मुद्दे पर बातचीत हो सके जिससे कश्मीरी अवाम की इच्छा और महत्वाकांक्षाओं के मुताबिक समस्या का मुकम्मल समाधान हो सके।' वार्ताकारों की टीम में राधा कुमार के अलावा दिलीप पडगांवकर और एम.एम. अंसारी शामिल हैं।

राधा कुमार के मुताबिक संविधान में 400 से ज़्यादा बार संशोधन किया जा चुका है और अगर इसमें आगे भी बदलाव किया जाए तो इसमें कोई बुराई नहीं है। हालांकि, राधा कुमार ने कहा कि यह उनकी निजी सोच है। भारत के संविधान के साथ-साथ जम्मू-कश्मीर का संविधान भी जम्मू-कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बताता है।

वार्ताकारों की टीम के अगुवा दिलीप पडगांवकर ने पत्रकारों से बातचीत में उम्मीद जताई कि पाक के कब्जे वाले कश्मीर के नेताओं को भी कश्मीर समस्या के समाधान की कोशिशों में शामिल किए जाने की इच्छा जाहिर की। दिलीप ने कहा, 'हां, हम लोग पाक के कब्जे वाले कश्मीर का भी दौरा करना चाहेंगे और वहां के सियासी नेतृत्व से चर्चा करना चाहेंगे ताकि हम इस मसले पर उनके नजरिए को जान सकें। लेकिन जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्से में लोग उस तरह से नहीं सोचते हैं जैसे कश्मीर घाटी के लोग सोच रहे हैं।'

4 comments :

  1. देश के टुकड़े करवा देंगे इसी देश के लोग...

    ReplyDelete
  2. Thah's good for us as we selected to find fact and truth is what they intelects says! we shoud be proude being repeating Our forefather's given gifts of their deeds- history ! we daserve to be SLAVE because we fight with each other and loves others by force or by choosing to heart our brother! Good luck

    ReplyDelete
  3. Problem is that we are not organised, instead of FB if we should all converge in Delhi on our own money and resources for one day to show Mr Dilip Padgaonkar what we think about his comment. Ms Radha Kumar says that we must look after the aspirations of Kashmiris(read Azadi) in the same way what about our aspirations. Only people in Kashmir have a view, what about us, are we foreigners or are we second class citizens and the so called intellectuals like Manmohan and co.(read gora saheb) see us as inferior natives.

    ReplyDelete

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ जम्मू उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा सीबीआई आतंकवाद आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया धर्म परिवर्तन पंजाब महाराष्ट्र सैयद अली शाह गिलानी हिन्दुराष्ट्र अरुण जेटली इस्लामाबाद मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड दवा उद्योग बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मायावती मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बसपा बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो सोहराबुद्दीन केस हरिद्वार असम गोवा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक