ताज़ा समाचार (Fresh News)

भाजपा के सांसदों की कोई भी गलत बयानबाजी बर्दाश्त नहीं - मोदी

राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के भड़काऊ बयान पर संसद में विपक्ष के हमलों के बाद गुरूवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस मामले में अपना बयान दिया। उन्होंने राज्यसभा में कहाकि वे इस तरह के बयानों की कड़ी निंदा करते हैं और किसी भी व्यक्ति को मर्यादा का उल्लंघन नहीं करना चाहिए। 

उन्होंने कहाकि मंत्री अपने बयान के लिए माफी मांग चुकी है। वे नई है और पहली बार मंत्री बनी है। मेरा मानना है कि माफी मांगने के बाद सदन में इतने अनुभवी और वरिष्ठ सदस्य बैठे हैं, मैं उनसे अपील करता हूं कि माफी मांगने के बाद हमें काम जारी करना चाहिए। इससे हम सबको भी संदेश जाता है कि हमें अपनी मर्यादा को नहीं तोड़ना चाहिए। हमें इस तरह के बयानों से बचना चाहिए। मैं इस बारे में अपने सांसदों को स्पष्ट कर चुका हूं। 

हालांकि पीएम के वक्तव्य के बाद भी राज्यसभा में हंगामा नहीं रूका और विपक्षी सदस्य मंत्री के इस्तीफे की मांग करने लगे। विपक्षी सदस्यों ने कहाकि मंत्री ने अपने बयान के लिए माफी नहीं मांगी केवल खेद व्यक्त किया। गौरतलब है कि इस मामले को लेकर पिछले मतीन दिनों से संसद में हंगामा चल रहा है और काम नहीं हुआ। 

प्रधानमंत्री मोदी ने भाजपा के सांसदों को ताकीद की है कि वे राष्ट्र के नाम कोई संबोधन न दें। उनकी कोई भी गलत बयानबाजी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। भाजपा संसदीय दल की बैठक में मोदी ने सांसदों को सख्त निर्देश दिए। माना जा रहा है कि यह निर्देश साध्वी निरंजन ज्योति की ओर इशारा है। साथ ही उन्होंने स्पष्ट कहा है कि ऎसी हरकत बर्दाश्त नहीं की जाएगी। साथ ही बैठक में पीएम मोदी ने साध्वी निरंजन ज्योति द्वारा दिए गए बयान पर निंदा व्यक्त की। 

गौरतलब है कि सोमवार को मोदी सरकार में राज्य मंत्री और उत्तर प्रदेश के फतेहपुर से सांसद साध्वी निरंजन ज्योति ने दिल्ली में चुनाव प्रचार के दौरान विवादित बयान दे डाला। पश्चिमी दिल्ली में सोमवार शाम को सभा के दौरान निरंजन ज्योति ने कांग्रेस नेताओं को गाली दे डाली। बयान पर संसद में बवाल मचने के बाद साध्वी ने अपने बयान को लेकर माफी मांगी। जबकि विपक्षी पार्टियां उनकी इस्तीफे की मांग को लेकर अड़ी हुई हैं। 

चुनाव प्रचार के दौरान साध्वी ने कहा था कि देश में रहने वाले सभी लोग राम की संतान है। फिर चाहे वो मुसलमान हो या फिर ईसाई। जो लोग इस विचारधारा में विश्वास नहीं करते वे भारतीय नहीं है, उन्हें भारत छोड़ देना चाहिए। यह तो लोगों को सोचना है कि वे राम को मानने वालों को वोट देते हैं या फिर राम को नहीं मानने वालों को। इससे पहले साध्वी ने दिल्ली में सभा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके दामाद रॉबर्ट वाड्रा पर कड़े शब्दों का वार किया।

महाराष्ट्र में शिवसेना और भाजपा एक बार फिर एक साथ हुए

महाराष्ट्र चुनाव के दौरान सीट बंटवारे को लेकर अलग हुई शिवसेना और भाजपा एक बार फिर एक साथ हो गए हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि शिवसेना के 12 मंत्री शुक्रवार को शपथ लेंगे। जिसमें पांच कैबिनेट और सात राज्य मंत्री होंगे। पिछले कुछ दिनों से दोनों पार्टियों के साथ आने को लेकर बैठकों का दौर चल रहा था।

फडणवीस ने कहा, "हम 25 साल से साथ हैं और दोनों पार्टियां का गठबंधन विकास पर आधारित है। हमने लोकसभा चुनाव साथ में लड़े। विधानसभा चुनाव हमने अलग-अलग लड़े, लेकिन हमे कांग्रेस और एनसीपी दोनों ही पार्टियों से ज्यादा वोट मिले।" साथ ही फडणवीस ने कहा आगामी बीएमसी चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर एक नई कमेटी बनाई जाएगी। महाराष्ट्र में फडणवीस सरकार की केबिनेट का शुक्रवार को विस्तार होना है। इससे पहले 31 अक्टूबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले फडणवीस मंत्रिमंडल में 8 केबिनेट और दो राज्य मंत्री हैं।

गौरतलब है कि विधानसभा चुनावों के दौरान सीटों के बंटवारे को लेकर दोनों पार्टियों का गठबंधन टूट गया था। इसके बाद दोनों पार्टियों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा था, इसमें भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी। चुनाव परिणाम के बाद भी दोनों पार्टियों में सुलह के प्रयास किए गए थे लेकिन बात नहीं बनी थी। इसके चलते भाजपा ने विधानसभा में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की मदद से विश्वासमत हासिल किया था। हालांकि इस पर उसे विपक्ष की कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था। 

विमान अपहरण विरोधी विधेयक 2014 को मंजूरी, अपहरणकर्ताओं को मृत्‍युदंड का प्रावधान

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आयोजित केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में एक समेकित विमान अपहरण विरोधी विधेयक, 2014 को मंजूरी दी गई। मौजूदा कानून विमान अपहरण विरोधी अधिनियम, 1982 को पिछली बार 1994 में संशोधित किया गया था।

दिसंबर 1999 में इंडियन एयरलाइंस फलाइट आईसी-814 के अपहरण के बाद इस बात की जरूरत महसूस की गई थी कि अपहरणकर्ताओं के लिए मृत्‍युदंड का प्रावधान किया जाए। इसके अतिरिक्‍त 11 सितंबर की घटना के बाद मौजूदा अधिनियम में संशोधन करने की जरूरत भी महसूस की गई, क्‍योंकि उक्‍त घटना में हवाई जहाजों को हथियार के रूप में इस्‍तेमाल किया गया था।

विमान अपहरण विरोधी (संशोधन) विधेयक, 2010 को राज्‍यसभा में अगस्‍त 2010 में पेश किया गया था। संशोधन प्रक्रिया के दौरान अगस्‍त- सितंबर 2000 में बीजिंग में एक विश्‍व राज‍नयिक सम्‍मेलन भी आयोजित हुआ था। इस सम्‍मेलन में बीजिंग प्रोटोकॉल पर भारत ने हस्‍ताक्षर किए हैं।

इस विधेयक में विमान अपहरण की घटना होने पर मृत्‍युदंड का प्रावधान किया गया है, यदि इस तरह के अपराध में किसी बंधक या किसी सुरक्षाकर्मी की मृत्‍यु होती है। इसके अलावा आजीवन कारावास और अपहरणकर्ताओं की चल और अचल संपत्ति को जब्‍त करने का प्रावधान भी किया गया है।

उपरोक्‍त तथ्‍यों को ध्‍यान में रखकर मंत्रिमंडल ने निम्‍नलिखित मंजूरियां दी हैं-

1)      बीजिंग प्रोटोकॉल, 2010 को स्‍वीकृति।
2)      1994 में संशोधित विमान अपहरण विरोधी अधिनियम को रद्द करना।
3)      विमान अपहरण विरोधी संशोधन विधेयक, 2010 को वापस लेना।
4)      नये विमान अपहरण विरोधी विधेयक, 2014 को पेश करना।

हर पुलिस स्‍टेशन में 33 प्रतिशत पुलिस महिलाएं हो - मेनका गांधी

केन्‍द्रीय महिला और बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका संजय गांधी ने इस बात पर बल दिया कि महिलाओं के विरूद्ध अपराधों के प्रति स्‍वत: संवेदनशीलता प्रणाली स्‍थापित करने के लिए प्रत्‍येक पुलिस स्‍टेशन में 33 प्रतिशत पुलिस महिलाएं होनी चाहिए। 

मंत्री महोदया ने कहा कि 'सभी महिलाओं वाले पुलिस स्‍टेशन' के होने से अलगाव की समस्‍या आयेगी। उन्‍होंने नई दिल्‍ली में 'लैंगिक हिंसा और न्‍याय तक पहुंच' : आकलन, विश्‍लेषण और नीति पर सेमिनार को संबोधित करते हुए यह बात कही। 

श्रीमती मेनका गांधी ने लैंगिक समानता के लिए आर्थिक शक्ति की भूमिका पर भी प्रकाश डाला। उन्‍होंने महिलाओं को आर्थिक रूप से समर्थ बनाने के लिए महिलाओं को प्रशिक्षण देने के बारे में कहा। उन्‍होंने बताया कि महिला प्रशिक्षण केन्‍द्र पीपीपी मॉडल के आधार पर स्‍थापित किए जा सकते हैं, जिसके लिए केन्‍द्रीय महिला और बाल विकास मंत्रालय निधि मुहैया कराने के लिए इच्‍छुक है। 

उनका मंत्रालय देश के सौ जिलों में 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' योजना पर पहले से ही कार्य कर रहा है। श्रीमती मेनका संजय गांधी ने 'लैंगिक पहचान और हिंसा' पुस्‍तक का विमोचन किया। 

जिन्हें पाकिस्तान पसंद है, वे जाएँ, किराया हम देंगे - योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर के सांसद तथा गोरक्षपीठ के महंत आदित्यनाथ ने कहा कि जिन्हें पाकिस्तान पसंद है, वे वहीं चले जाएं, अगर किराया न हो तो हमसे ले जाएं। 

भारत में रहकर किसी को राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में लिप्त होने की छूट नहीं दी जा सकती। यहां संविधान विरोधी गतिविधियों को सहन नहीं किया जाएगा। 

पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की ड्रेस पहनकर प्रदर्शन करने वालों पर अगर प्रशासन ने कार्रवाई नहीं की तो हिंदू युवा वाहिनी कार्यकर्ता इसका मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार हैं।

महंत शनिवार को कलेक्ट्रेट के सामने हिंदू पंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बुद्ध की धरती पर राष्ट्र विरोधी, संविधान विरोधी, धर्मांतरण समर्थक शक्तियां मजबूत हो रही हैं।

भारत लोकतांत्रिक देश है। इसके सभी निवासियों पर कानून को समान रूप से लागू करना प्रशासन की जिम्मेदारी है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की विफलता से उत्तर प्रदेश गंदा प्रदेश बन गया है। प्रदेश सरकार सिर्फ तुष्टीकरण की राजनीति कर रही है। 

बिजली, पानी, सड़क, खाद-बीज की कमी से जनता जूझ रही है। इन समस्याओं के समाधान में प्रदेश सरकार विफल साबित हो रही है। 

उन्होंने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार बढ़ता जा रहा है। नोएडा में जिस यादव सिंह जैसे चीफ इंजीनियर के घर बेशुमार दौलत मिली है, वैसे अधिकारी प्रदेश के हर जिले में हैं, जिन्हें सपा नेताओं का संरक्षण प्राप्त है। महंत ने कहा कि महापुरुषों की जयंती मनाने पर रोक निंदनीय है। यह वोट की राजनीति का परिणाम है। 

मुस्लिम लड़की से शादी करने पर हिन्दू युवक का गला काटा

उत्‍तर प्रदेश के हापुड़ जिले में झूठी शान की खातिर हत्‍या का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसे जानने के बाद आपके रौंगटे खड़े हो जायेंगे। यहां लव मैरिज के चलते हिंदू व्यक्ति और उसकी मुस्लिम पत्नी को सरेआम तलवार से काट दिया गया। मामला दो समुदाय के होने के कारण इलाके में बेहद तनाव है। स्‍थानीय पुलिस सहित अतिरिक्‍त बल की तैनाती की गई हैु। घटना के बाद दो आरोपियों ने सरेंडर कर दिया है जबकि अन्‍य की गिरफ्तारी के लिए संभावित जगहों पर छापेमारी की जा रही है।

प्राप्‍त जानकारी के मुताबिक 22 साल के सोनू और 21 साल की दानिश्ता बेगम ने चार महीने पहले शादी की थी। दोनों दिल्ली से करीब 75 किलोमीटर दूर फतेहरपुर गांव में रह रहे थे। दोनों परिवार करीब 13 साल से पड़ोसी थे। महिला के परिवार ने दावा किया था कि उन्होंने शादी का प्रमाणपत्र नहीं देखा है। इसके बाद स्थानीय पंचायत ने इस युगल को एक-दूसरे से अलग होने का आदेश सुना दिया। इस आदेश के बाद दानिश्ता अपने घर चली गई थी लेकिन एक हफ्ते बाद ही वह अपने पति के पास वापस चली गईं, जिससे उनका परिवार नाराज था।

शनिवार को दानिश्ता के भाई तालिब ने सरेआम सोनू का गला काट दिया। जब दानिश्ता ने अपने पति को बचाने की कोशिश की तो उसका भी गला काट दिया गया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर लिया है। तालिब और उसकी मां नूरजहां ने पुलिस थाने में सरेंडर कर दिए, जिसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया। चार अन्य आरोपी - लड़की के दो भाई आसिफ और तस्लीम तथा उनके दोस्त जफरुद्दीन और अमीरुद्दीन फरार हैं।

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers