ताज़ा समाचार (Fresh News)

विकीलीक्स के एक और खुलासे से देश में हड़कंप

विकीलीक्स के एक और खुलासे से देश में हड़कंप मच गया है। अमेरिका की विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन की कैबिनेट बदलाव पर नज़र थी और वे नहीं चाहती थी की प्रणब मुखर्जी को वित्तमंत्री बनाया जाए। हिलेरी क्लिंटन यह जानना चाहती थी कि वित्त मंत्री के लिए प्रणब मुखर्जी को क्यों तरजीह दी जा रही है। हिलेरी चाहती थीं कि मोटेंक सिंह, कमलनाथ या पी चिदंबरम को वित्तमंत्री बनाया जाए।

इसके
साथ ही हिलेरी यह भी जानना चाहती थी कि प्रणब किस औद्योगिक घराने से संबंध रखते हैं और किसके फ़ायदे के लिए नीतियां बनाएंगे। इससे पहले गुरुवार को भी विकीलीक्स के एक खुलासे से बवाल मच गया था, जिसमें कहा गया था कि 2008 में परमाणु डील के लिए हुई वोटिंग में विश्वास मत हासिल करने के लिए आऱएलडी के सांसदों को रिश्वत दी गई थी।

वहीं
कुछ दिनों पहले भी वामपंथी दलो ने केंद्र सरकार पर आरोप लगाया था कि वह अमेरिकी दबाव में कैबिनेट फेरबदल करती है। विकीलीक्स वेबसाइट ने कहा था कि 2006 में हुए कैबिनेट फेरबदल में अमेरिका की दख़लंदाज़ी की बात सामने आई। बीजेपी ने भी इस मुद्दे को उठाया।

मनमोहन सिंह ने संसद के बाहर किया विकीलीक्स का खंडन

विकीलीक्स खुलासे पर मचे हंगामे के बीच आख़िरकार संसद के बाहर एक कार्यक्रम के दौरान पीएम ने अपनी चुप्पी तोड़ी। पीएम ने इंडिया टुडे कॉनक्लेव के दौरान बोलते हुए यह साफ़ कहा कि सासंदों की ख़रीद फरोख़्त नहीं हुई और ही उन्होंने इस काम के लिए किसी को कहा था।

ग़ौरतलब
है कि विकीलीक्स ने बीते दिन यह सनसनीख़ेज़ खुलासा किया था कि 2008 में हुए विश्वास मत के दौरान कांग्रेस पार्टी ने सांसदों की ख़रीद फ़रोख़्त किए थे। विकीलीक्स के खुलासे के बाद विपक्षी जहां जमकर केंद्र सरकार पर निशाना साध रहे हैं और पीएम से इस्तीफ़े की मांग कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर मनमोहन के बयान के बाद विपक्ष ने एक बार फिर से आज इस बात पर जमकर हंगामा किया कि पीएम ने सदन से बाहर बयान क्यों दिया।

वहीं विकीलीक्स के खुलासे के बाद सदन के दोनों सदनों में जबरदस्त हंगामा हुआ। इससे पहले विपक्ष ने जब प्रधानमंत्री को सामने आकर सांसदों की ख़रीद फ़रोख़्त के मामले में सफ़ाई दें, जिसके बाद हंगामा शुरू हो गया था और लोकसभा और राज्यसभा में हंगामा शुरु हो गया। वहीं एक कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने इस मामले पर सफाई देते हुए कहा कि उन्हे सांसदों की ख़रीद फ़रोख़्त की कोई जानकारी नहीं है। जिसे लेकर भी संसद में हंगामा हुआ कि पीएम सदन के बाहर क्यों सफ़ाई दे रहे हैं।

विकीलीक्‍स के खुलासे पर भाजपा ने मांगा मनमोहन से इस्‍तीफा

विश्वासमत के दौरान सांसदों की खरीद-फरोख् को लेकर विकीलीक् के ताजा खुलासे से देश की सियासत में भूचाल गया है. संसद की कार्यवाही के दौरान विपक्षी नेताओं ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने इस्तीफे की मांग की है.

लोकसभा
में नेता विपक्ष सुषमा स्‍वराज ने कहा कि विकीलीक्‍स के खुलासे के मद्देनजर मनमोहन सिंह को इस्‍तीफा देना चाहिए. बीजेपी नेता मेनका गांधी ने भी प्रधानमंत्री से ऐसी ही मांगी की.राज्‍यसभा में नेता विपक्ष अरुण जेटली ने सरकार से मांग की कि वह इस मसले पर बयान देकर स्थिति स्‍पष्‍ट करे. संसद के दोनों सदनों में हंगामे के बाद कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक स्‍थगित कर दी गई.

गौरतलब
है कि विकिलीक्स के एक खुलासे से सियासत में हड़कंप मच गया है. विकीलीक्‍स के मुताबिक परमाणु डील पर विश्वास प्रस्ताव जीतने के लिए मनमोहन सरकार ने वोट खरीदे थे. खबर है कि अजीत सिंह के राष्ट्रीय लोकदल को कांग्रेस की तरफ से पैसे दिए गए थे.

हालांकि
अजित सिंह ने इस खुलासे को यह कहते हुए खारिज का दिया है कि उनकी पार्टी के पास तो उस वक्त सिर्फ 3 सदस्य थे. खुलासे में 4 का जिक्र है. बहरहाल, विकीलीक्‍स के खुलासे के बाद आया सियासी भूचाल फिलहाल थमने के आसर नहीं हैं..

आधे लीटर गोमूत्र से 28 घंटे सीफलएल बल्ब जलाया जा सकता है

सिर्फ आधे लीटर गोमूत्र से आप 28 घंटे केवल एक सीफलएल बल्ब जला सकते हैं, बल्कि मोबाइल भी चार्ज कर सकते हैं। भौती गोशाला, कानपुर ने गोज्योति नाम से ऐसा लैंप विकसित किया है जिसमें आधा लीटर गोमूत्र से एक सप्ताह तक झोपड़ी रोशन की जा सकती है। खास बात यह है कि इस संयंत्र के उपयोग में अन्य किसी प्रकार का कोई खर्च नहीं होता।भौती गोशाला में एक ऐसी बैट्री तैयार की गई है जो सिर्फ गोमूत्र से चार्ज होती है। छह वोल्ट की इस बैट्री में आधा लीटर गोमूत्र डाल देते हैं, इसके बाद सीफल का बैट्री से कनेक्शन कर देते हैं।

सुविधानुसार स्विच भी लगा देते हैं। स्विच ऑन करते ही सीफल बल्ब जल उठती है। इस बैट्री से एक अन्य लिंक निकालकर मोबाइल चार्जर भी लगा दिया जाता है। गोशाला सोसाइटी के उपाध्यक्ष एवं पूर्व सांसद प्रेम मनोहर के अनुसार, एक गोज्योति बनाने की लागत करीब डेढ़ हजार रूपये आती है। बल्क में बनाने पर यह लागत और भी घट सकती है। आधे लीटर गोमूत्र से 28 घंटे तक बल्ब जल सकता है।गोमूत्र के इस अनुंसधान ने आई.आई.टी और एचबीटीआई जैसे उच्च तकनीकी संस्थान भी हतप्रभ हैं।

उन्होंने भी माना कि गोमूत्र में वह शक्ति है, जिससे बल्ब जल सकता है। गोशाला की इस अनोखी गोज्योति को देखकर अभी गुजरात के एक स्वयंसेवी संगठन ने दो हजार लैंप तैयार करने का ऑर्डर भी दिया है। इसका अति पिछड़े गैर विद्युतीकृत ग्रामीण इलाकों में वितरण किया जाएगा। ध्यान रहे कि कानपुर गोशाला सोसायटी ने बीते वर्ष ही गोबर से सीएनजी तैयार की थी, जिससे सफलतापूर्वक कार चलायी जाती है। गोशाला सोसायटी के सदस्य सुरेश गुप्ता बताते हैं कि अगर सरकार गो-ज्योति को प्रोत्साहित करे तो देश की वे झोपड़ियां भी सहजता से रोशन हो सकती हैं जहां अभी बिजली की कल्पना भी नहीं की जा सकती।

सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के दौलत के बढ़ते ग्राफ

सोनिया गांधी के दामाद रॉबर्ट वाड्रा के दौलत के बढ़ते ग्राफ से विपक्ष को कांग्रेस और गांधी परिवार पर निशाना साधने का मौका मिल गया है। लोकसभा में नेता प्रतिपक्ष सुषमा स्वराज ने कहा कि उनकी पार्टी वाड्रा की संपत्ति से जुड़े दस्तावेज जुटा रही है, ताकि सच्चाई सामने लाई जा सके। भाजपा के अलावा वामदलों ने भी कांग्रेस और गांधी परिवार पर निशाना साधा है।

2008 के बाद: राजस्थान-हरियाणा में जमीन खरीदी, दिल्ली के बड़े होटल में 50 फीसदी हिस्सेदारी, एयर क्राफ्ट चार्टरिंग में प्रवेश की कोशिशें, डीएलएफ ग्रुप से कर्ज मिला।

दो साल में किया है करोड़ों का निवेश

कंपनी शुरूआत पेड अप शेयर व्यापार कैपिटल

स्काईलाइट हॉस्पिटेलिटी 1 नवं. 07 5 लाख हॉस्पिटेलिटी, रियल एस्टेट
स्काईलाइट रियल्टी 16 नवं. 07 5 लाख रियल एस्टेट, फ्लैट बुकिंग
नॉर्थ इंडिया आईटी पार्क्स 19 जून 08 25 लाख रियल एस्टेट
रियल अर्थ एस्टेट 18 फर. 08 10 लाख रियल्टी, निर्माण
ब्लू ब्रिज ट्रेडिंग 1 नवं. 07 5 लाख एयरक्राफ्ट चार्टिग

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers