ताज़ा समाचार (Fresh News)

वैष्णो देवी की फोटो वाले सिक्को पर कठमुल्लों ने आपत्ति जताई

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने पांच रुपये और 10 रुपये के नए सिक्के जारी किए हैं, जिन पर वैष्णो देवी की फोटो है. आरबीआई के इस कदम पर कठमुल्लों ने कड़ा ऐतराज जाहिर किया है. आपको बता दें कि माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की सिल्वर जुबली के मौके पर माता वैष्‍णो देवी की तस्‍वीर वाले सिक्‍के जारी किए गए हैं.

कठमुल्लों  की मानें तो इससे लोगों की धार्मिक भावनाएं आहत हो सकती हैं. उन्होंने कहा कि अगर भारतीय सिक्के पर हिंदू देवी की फोटो हो सकती है तो इस पर इस्लाम का चिन्ह सितारे के साथ आधा चंद्रमा की भी तस्वीर हो सकती है.

मोहम्मद अफजल खान नाम के एक व्यापारी ने गुरुवार को ऐसे ही 5 रुपये के 88 सिक्के 500 रुपये में खरीदे. खान ने बताया, 'मुझे लगा ये सारे सिक्के नकली थे लेकिन पता चला ऐसे सिक्के जारी किए गए हैं. हम किसी धर्म के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन इस तरह के सिक्कों के जारी होने से अंतर पैदा होता है.'

फतेहपुरी मस्जिद के इमाम मुफ्ती मोहम्मद मुकर्रम अहमद ने कहा, 'ऐसे सिक्कों के इस्तेमाल करने से लोग बचें. हमें दुख पहुंचा है. आज ये एक सिक्का है कल को कुछ भी हो सकता है. लोग इसे मुद्दे की तरह इस्तेमाल कर इससे परेशानियां खड़ी कर सकते हैं. देश की भलाई के लिए ऐसे सिक्कों को बंद कर दिया जाना चाहिए और आरबीआई को भी इसे रद्द करना चाहिए.'

आरबीआई की प्रवक्ता अल्पना कीलावाला ने बताया, 'सिक्के को डिजायन करने में आरबीआई का कोई हाथ नहीं होता है. ये भारत सरकार द्वारा किया जाता है. हम बस डिस्ट्रीब्यूशन मॉनिटर करते हैं.'

इससे पहले कॉमनवेल्थ खेलों के दौरान होमी जहांगीर भाभा, संत अल्फांसो, KVIC, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, ONGC, लाल बहादुर शास्त्री, दांडी मार्च, स्वामी विवेकानंद, मोतीलाल नेहरू, मदन मोहन मालवीय जैसे कई सिक्के जारी किए गए थे. इस पर खान ने कहा, 'लेकिन इनमें से किसी का भी किसी धर्म से कुछ संबंध नहीं था. वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड केवल एक धर्म के लिए है. सरकार को इस तरह के फैसले लेते हुए सतर्क रहना चाहिए.'

सलमान खुर्शीद पर हिंदू जागरण मंच ने गंभीर आरोप लगाए

हिंदू जागरण मंच के प्रांतीय मंत्री दिनेश मिश्र दिन्नू ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद पर एक के बाद एक गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने सलमान के प्रतिनिधि की मां पर पाकिस्तानी होने का आरोप लगाया तथा इसके साथ ही विदेशी मूल के लोगों के भारतीय बन जान की प्रक्रिया की जांच की भी मांग की। प्रांतीय मंत्री ने सलमान पर विशेष वर्ग के लोगों के लिए काम करने का आरोप लगाते हुए कहा कि खुर्शीद का परिवार से मुस्लिम लीग की राजनीति होती रही है तो यह कब और क्यों कांग्रेस में शामिल हो गए। दिनेश मिश्रा ने पिछले दिनों हिजामं नेता राघव दत्त मिश्रा के साथ हुए दु‌र्व्यवहार का विरोध भी विदेश मंत्री को झेलने की बात कही।

मुहल्ला नुनहाई स्थित राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिनेश मिश्र ने कहा कि कांग्रेस नेता हिंदू जागरण मंच पर झूठे आरोप लगा रहे हैं। विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद के सामने हिजामं नेता राघवदत्त मिश्रा से कांग्रेसियों ने दु‌र्व्यवहार किया। उन्होंने आरोप लगाया कि विदेश मंत्री के प्रतिनिधि वाहिद अली खां की मां मूलत: पाकिस्तानी हैं। भारत सरकार ने वाहिद अली, उनके भाई सादिक अली, साजिद अली एवं उनकी मां को 27 नवंबर 1989 को भारतीय नागरिकता दी थी। यह लोग मूलत: भारतीय नहीं हैं। इसके बावजूद विदेश मंत्री ने उन्हें अपना प्रतिनिधि बना रखा है। उन्होंने आरोप लगाया कि विदेशी मूल के लोग किस प्रकार भारतीय बन जाते हैं, इसकी जांच होनी चाहिए। उन्होंने सवाल किया कि सलमान खुर्शीद के परिवार से भी कभी मुस्लिम लीग की राजनीति होती रही है। यह कब और क्यों कांग्रेसी हो गए। उनकी ट्रस्ट पर कभी राष्ट्रीय स्तर पर वैशाखी आदि चोरी का आरोप भी लगा। यह लोग ऐसे काम करते हैं, जो एक वर्ग विशेष के लिए होते हैं।

हिंदू युवा वाहिनी के जिलाध्यक्ष रामजी मिश्रा ने कहा कि कांग्रेसियों को उनकी ही भाषा में जवाब देंगे। खटकपुरा निवासी शाहिद अली खां की संस्था डा.जाकिर हुसैन मुस्लिम वेलफेयर एंड एजूकेशनल सोसायटी के बैंक खातों के संचालन पर फर्म सोसाएटीज तथा चिट्स के डिप्टी रजिस्ट्रार अरविंद उत्तम ने रोक लगा दी है। बातचीत में हिजामं के पूर्व जिलाध्यक्ष राजेश मिश्रा, शैलेंद्र अग्निहोत्री, शैलेश बाथम, संजू शर्मा भी मौजूद रहे।

दक्षिण अफ्रीका में मॉडलों की टी-शर्ट्स पर देवताओं की तस्वीरें, हिंदू आक्रोशित

दक्षिण अफ्रीका में हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरों वाली टी-शर्ट पहने मॉडल के आपत्तिजनक मुद्रा में नजर आने को लेकर विवाद खड़ा हो गया है। हिंदू संगठनों ने इस पर कडी नाराजगी जताई है।

साउथ अफ्रीका की एक वेबसाइट पर कुछ मॉडलों की तस्वीरें पोस्ट की गई हैं, जिनके टी-शर्ट पर हिंदू देवी-देवताओं की तस्वीरे हैं। ये मॉडल आपत्तिजनक मुद्रा में खड़े हैं। ये तस्वीरें नए साल के अवसर पर ली गई थीं।

दक्षिण अफ्रीकी तमिल महासंघ के अध्यक्ष कार्ती मूथस्वामी ने कहा कि उनका संगठन सत्तारुढ़ अफ्रीकन नैशनल कांग्रेस और सरकारी प्रतिष्ठानों दोनों के समक्ष यह मुद्दा उठाएगा।

दक्षिणी अफ्रीकी हिंदू महसभा के अध्यक्ष अश्विन त्रिकामजी ने कहा कि इस तरह की हरकतें उन लोगों की ओर से की जाती हैं जो धार्मिक महत्व से उपेक्षित हैं।

विश्व का पहला रामायण विश्वविद्यालय बिहार में

पटना से कुछ किलोमीटर की दूरी पर स्थित बिद्दूपुर, वैशाली में एक विश्वविद्यालय खोला जा रहा है जहां रामायण, गीता जैसे धार्मिक ग्रंथों की पढ़ाई होगी। साथ ही रामायण आदि हिंदुओं के धार्मिक ग्रंथों से जुड़े शोध कार्य भी यहां किए जा सकेंगे। 5 साल के इस कोर्स में एस्ट्रोफीजिक्स, एस्ट्रॉनोमी, हिंदू माइथॉलोजी, वेद, उपनिषद संस्कृत, हिंदी, अन्य भारतीय तथा एशियाई भाषाओं में पढ़ाए जाएंगे। हिंदू ट्रस्ट द्वारा 25 एकड़ में 500 करोड़ की धनराशि से बनाए जाने वाले इस विश्वविद्यालय के लिए पटना के प्रसिद्ध महावीर मंदिर के सेक्त्रेटरी आचार्य किशोर कुणाल निर्माण कार्यभार संभाल रहे हैं। हालांकि अभी तक इसके बनने की कोई समय सीमा नहीं रखी गई है लेकिन आचार्य कुणाल के अनुसार जितनी जल्दी संभव होगा इसका निर्माण कार्य पूरा करने की कोशिश की जाएगी।

व्यावहारिक दृष्टिकोण से इसे संभावनाहीन बताने वाले भी इस परियोजना की पूरी जानकारी होने पर इसका विरोध नहीं कर सकेंगे। 2500 विद्यार्थियों के लिए सीटों की व्यवस्था के साथ इस विश्वविद्यालय में सभी आधुनिक सुविधाएं होंगी। साथ ही इसे रोजगारपरक भी बनाया जाएगा। विद्यार्थियों को यहां वाई-फाई की सुविधा भी दी जाएगी और विदेशी भाषाओं से भी उनके ज्ञान को जोड़ा जाएगा। आप सोच में पड़ गए कि धार्मिक ग्रंथों का विदेशी भाषाओं से क्या संबंध! चौंकिए मत! यह नालंदा विश्वविद्यालय की धरती है। ह्वेन सांग जैसे चीनी यात्री भी यहां आकर इसकी महिमा का गुणगान कर चुके हैं। इस विश्वविद्यालय में धर्म की इस शिक्षा को वैश्रि्वक स्वरूप देने के लिए रामायण, गीता, ज्योतिष आदि की पढ़ाई हिंदी, संस्कृत के अलावे कई विदेशी भाषाओं में भी कराई जाएगी।

इससे वैश्रि्वक स्तर पर इसके प्रसार के साथ ही तकनीक-सुलभ धर्म ज्ञान प्रशिक्षुओं को मिल सकेगा। साथ ही धर्म से जुड़े इन प्रशिक्षुओं के लिए वैश्रि्वक रोजगार की संभावनाएं भी उपलब्ध होंगी। यहां धार्मिक रीति-रिवाजों, पूजा-पाठ आदि संपन्न कराने के लिए भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। तो अगर आप ढोंगी बाबा या अल्पज्ञान पंडितों से तंग आ गए हैं तो कुछ वषरें का इंतजार कीजिए..हो सकता है जैसे लोग हॉवर्ड और ऑक्सफोर्ड की डिग्री दिखाकर अपने ज्ञान का सबूत देते हैं, इससे निकले प्रशिक्षु भी इससे पढ़ा पंडित होने का मार्क लेकर घूमें। 

7 साल से कोमा में पुलिसकर्मी पर बिहार सरकार ने किया 3 बार तबादला

बिहार की नितीश सरकार में सात साल से कोमा में पडे़ सिपाही के साथ प्रशासन और पुलिस विभाग ज्यादती पर ज्यादतियां करता जा रहा है। खुद को न्याय की सरकार कहने वाले सीएम नितीश आंखे मूंदे हुए है। 

बिहार पुलिस में तैनात सिपाही लखींद्र सिंह डयूटी पर हुए हादसे के बाद जिंदा लाश बना हुआ है। सिपाही को सरकारी मदद व इलाज देने के बजाए, संवेदनहीन प्रशासन लगातार उसके तबादले के आदेश जारी कर रहा है।

२००६ के पंचायत चुनाव में लखींद्र समेत पांच सिपाहियों को मतपत्र लाने के लिए कोलकाता भेजा गया थाण् वहां से लौटने के क्रम में २७ अप्रैल २००६ को नालंदा के पास इनकी बोलेरो गाड़ी में एक ट्रक ने ठोकर मार दी, जिससे उसमें सवार ५ जवान घायल हो गये। उनमें से ४ तो इलाज के बाद ठीक हो गये। लेकिन लखींद्र आज तक कोमा में है। आज तक उन्होंने आंखें नहीं खोली हैं।

सिपाही लखींद्र चौधरी हाथ.पांच काम नहीं करते, गले में पाइप लगा है. उसी के सहारे भोजन दिया जाता है, प्रशासन ने उसके समुचित इलाज की कोई व्यवस्था नहीं की इस हाल में होते हुए भी लखींद्र का तीन बार तबादला आदेश जारी कर दिया गया, जिसे किसी तरह रुकवाया गया, लहेरियासराय पुलिस लाइन के क्वार्टर में पड़े लखींद्र की पत्नी और उसके तीनों बच्चे तीमारदारी में लगे हैं।

मुजफ्फरपुर जिले के सरैया के रेवा की छह कट्ठा जमीन बिक चुकी और शेष जमीन बंधक रखनी पड़ी, पत्नी सीमा देवी कहती हैं-अब तो बस देह पर का कपड़ा रह गया है, अब एक ही रास्ता रह गया है, इनको उठा कर बड़े हाकिमों के दरवाजे पर रख दूंगी, वहीं जो होना होगा हो जायेगा।

सपा के मुस्लिम चेहरे आजम खां एक बार भी मुजफ्फरनगर नहीं गए - कल्बे जव्वाद

शिया धर्म गुरु व ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य कल्बे जव्वाद ने उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खां पर निशाना साधते हुए कहा कि समाजवादी पार्टी में वे मुसलमानों के चेहरा बताए जाते हैं, लेकिन मुजफ्फरनगर में दंगा पीड़ितों का हाल जानने तक नहीं गए। मुसलमानों ने बड़ी उम्मीद से सपा को चुना था, लेकिन दो साल बाद भी वह खरी नहीं उतर पाई है।

मंगलवार को यहां अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए कल्बे जव्वाद ने कहा कि अखिलेश यादव नौजवान हैं। उन्हें देखते हुए ही मुसलमानों ने विश्वास जताया था। मुजफ्फरनगर दंगे पर उनका कहना था कि वहां सपा के छुटभैया नेता व अधिकारियों ने स्थिति खराब की। अगर मुख्यमंत्री तत्काल जाकर जायजा लेते तो शायद हालात न बिगड़ते। सबसे बड़ा अफसोस यह रहा कि आजम खां एक बार भी मुजफ्फरनगर नहीं गए, जबकि सरकार उन्हें मुसलमानों का चेहरा बताती है।

आम आदमी पार्टी (आप) के बारे में उनका कहना था कि पार्टी की अभी शुरुआत है। भ्रष्टाचार से तंग आकर दिल्ली की जनता ने 'आप' पर भरोसा जताया है। देखना ये होगा कि यह पार्टी जनता के विश्वास को बनाए रखती है या अन्य पार्टियों की तरह हो जाती है।

लोकसभा चुनाव में किस पार्टी का समर्थन करेंगे? इस सवाल के जवाब में उनका कहना था कि जो कांग्रेस और भाजपा को हराएगा, उसे ही वोट दिया जाएगा। सपा के बारे में उनका कहना था कि दो साल में भी यह पार्टी मुसलमानों से किए वायदे पूरे करने में नाकाम रही है।

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers