ताज़ा समाचार (Fresh News)

राजस्थान निकाय चुनाव में भाजपा का पलडा भारी


जयपुर। राजस्थान में विपक्षी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के "क़डी से क़डी मिलाने" वाले नारे को झुठलाते हुए 126 शहरी निकाय सीटों में से 57 पर जीत दर्ज कर सत्तारूढ़ कांग्रेस को पछ़ाड दिया है।
भाजपा ने अपने अंदरूनी झग़डों और गुटबाजी के बावजूद ब़डी जीत हासिल की है। पार्टी को 126 में से 57 निकायों में कामयाबी मिली है, जबकि सत्तारूढ़ दल कांग्रेस को 49 निकायों में ही जीत मिली है, हालांकि अजमेर नगर निगम पर कब्जा कर कांग्रेस अपना दबदबा कायम करने में सफल हुई है। इसके अलावा दो सीटों पर बसपा, एक पर राकांपा और 17 पर निर्दलीय की जीत हुई है। इसी तरह वार्ड सदस्यों के चुनावों में भी भाजपा को 3096 में से देर शाम तक 1088 और कांग्रेस को 1040 वार्डो में कामयाबी मिली है। राज्य निर्वाचन आयोग के आंक़डों के अनुसार पिछले चुनावों के मुकाबले हालांकि भाजपा को 23 सीटों का घाटा हुआ है, लेकिन विपक्ष में रहने के कारण नतीजों को उसके पक्ष में माना जा रहा है। भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव वसुंधरा राजे और प्रदेश अध्यक्ष अरूण चतुर्वेदी के बीच टिकट बंटवारे को लेकर मतभेद उत्पन्न हुआ था, उसके बावजूद पार्टी को उम्मीद से ज्यादा सफलता मिली है। जानकारों के अनुसार पार्टी में जिस तरह की अंदरूनी कलह मची हुई थी, उसे देखते हुए भाजपा को 50 से ज्यादा सीटों की उम्मीद नहीं थी। कांग्रेस ने हालांकि पिछली बार की तुलना में 16 सीटें ज्यादा ली हैं, फिर भी सत्ता में होने के कारण कांग्रेस के लिए ये चुनावी नतीजे निराशाजनक माना जा रहा है, क्योंकि शहरी निकाय चुनावों में परंपरागत रूप से सत्तारूढ़ दल को हमेशा से बढ़त मिलती रही है।

इससे पहले वर्ष 2000 के चुनावों में कांग्रेस ने सत्ता में रहते हुए 59 निकायों में जीत हासिल की थी। कांग्रेस के लिए राहत की बात यह है कि उसे नवगठित अजमेर नगर निगम के चुनावों में शानदार कामयाबी मिली है। यहां उसके प्रत्याशी ने भाजपा प्रत्याशी से यह सीट छीनी है। अजमेर नगर निगम को छो़डकर राज्य के सभी पांच नगर निगमों पर अब भाजपा का कब्जा हो गया है, जबकि चार नगर निगमों पर कांग्रेस का कब्जा बरकरार है। कांग्रेस के लिए सबसे निराशाजनक बात यह है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के प्रभाव वाले मारव़ाड संभाग में भी कांग्रेस को मुंह की खानी प़डी है। संभाग के जोधपुर, नागौर एवं जैसलमेर जिले की 11 नगर पालिकाओं के अध्यक्ष पद पर छह जगह भाजपा प्रत्याशी कामयाब रहे हैं, जबकि अध्यक्ष पद के लिए कांग्रेस के तीन प्रत्याशी ही कामयाब हुए। पीप़ाड और परबतसर में निर्दलीय प्रत्याशी ने बाजी मारी है।

लालगढ़ के बयान पर संसद में भी घिरीं ममता

लालगढ़ में माओवादियों के समर्थन में दिए बयान को लेकर रेल मंत्री ममता बनर्जी को सड़क से लेकर संसद तक विपक्ष के जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ रहा है. संसद में विपक्षी दलों ने ममता के मंत्री होने तक पर सवाल उठा दिया.

गुरूवार को संसद की कार्यवाही शुरू होते ही राज्यसभा में बनर्जी को समूचे विपक्ष ने जमकर घेरा. वामदलों ने तो इसे कैबिनेट मंत्री के तौर पर ममता को मिले अधिकारों के हनन का मामला तक बता दिया. पिछले सोमवार को ममता ने अपने गृह राज्य पश्चिम बंगाल के नक्सली हिंसा से प्रभावित लालगढ़ में तृणमूल कांग्रेस की रैली में माओवादियों की तरफदारी में भाषण दिया था.

उन्होंने हाल ही में पुलिस मुठभेड़ का शिकार बने शीर्ष माओवादी नेता आजाद की मौत को हत्या बताया था. ममता ने कहा, "जिस तरह आजाद को मारा गया, वह सही नहीं था और इसकी जांच होनी चाहिए." बुधवार को ममता ने अपने बयान से पीछे नहीं हटने की भी बात कह डाली. गौरतलब है कि माओवादियों का प्रवक्ता आजाद 2 जुलाई को आंध्र प्रदेश के आदिलाबाद जिले में सुरक्षाबलों के साथ हुई मुठभेड़ में मारा गया था.

ममता के बयान का विरोध करते हुए सीपीएम नेता और राज्यसभा सदस्य सीताराम येचुरी ने उन पर माओवादियों का पक्ष लेने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि सरकार का एक मंत्री कैसे खुलकर उन माओवादियों का साथ दे सकता है जिन्हें खुद प्रधानमंत्री ने देश की सुरक्षा के लिए सबसे बड़ा खतरा बताया है.


येचुरी ने कहा कि मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक रेल मंत्री ने सरकारी एजेंसियों को हत्यारा बताया है. उन्होंने कहा कि ममता ने अपने भाषण में माओवादियों के साथ जुड़ने पर गर्व होने की बात भी कही थी जो कि निहायत शर्मनाक है.

बीजेपी के प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने भी सदन में ममता की निंदा की. उन्होंने कहा कि एक केन्द्रीय मंत्री का सरकार के खिलाफ सार्वजनिक तौर पर बयान देना गंभीर बात है.

हिन्दु राष्ट्र की अनंत शक्ति

हिन्दु राष्ट्र की अनंत शक्ति जग रही।
आर्य -देश की स्वदेश-भक्ति जग रही॥

ज्योतिर्मय उषा-काल आ रहा
मोहयुक्त तिमिर जाल जल रहा
वह परानुकरण की मोह -रात्रि ढल रही॥हिन्दु -राष्ट्र की॥

प्रलयंकर यज्ञ जो चल रहा
जन-उर का पाप-कलुष जल रहा
भेदभाव की महान भित्ति गिर रही॥।हिन्दु -राष्ट्र की॥

आत्मज्ञानयम प्रकाश छा रहा
सुप्त सत्व-बल शनैः आ रहा
घोर मनोदास्य से विमुक्ति मिल गई॥।हिन्दु -राष्ट्र की॥

सावधान पाञ्चजन्य बज रहा
सावधान गाण्डीव तन रहा
मदन -दहन की तृतीय दृष्टि तन गई॥।हिन्दु -राष्ट्र की॥

योग गुरू बाबा रामदेव ने हरिद्वार में सडक मार्ग पर बैठ कर धरना दिया.

हरिद्वार : लोहारी नागपाला जल विद्युत परियोजना को स्थगित किये जाने की मांग को लेकर योग गुरू बाबा रामदेव ने हरिद्वार में सडक मार्ग पर बैठ कर धरना दिया.

रामदेव ने हरिद्वार के शंकराचार्य चौक पर अपने साथियों तथा अन्य साधू संतों के साथ बैठकर लोहारी नागपाला जल विद्युत परियोजना को तुरन्त स्थगित किये जाने की मांग की और कहा कि गंगा भारत का ओस्तत्व है और भारत के ओस्तत्व के साथ खिलवाड बर्दाश्त नही किया जायेगा.
रामदेव ने गंगा की अविरल धारा को बहने देने की मांग करते हुए कहा कि गंगा पर राजनीति करना छोड दे. अन्यथा संतों को कठोर कदम उठाने पर मजबूर होना पडेगा. स्वामी रामदेव के साथ बडे अखाडे के महंत राजेन्द्र दास, विश्व हिन्दु परिषद के नेता राजेन्द्र पंकज ओद भी धरने पर मौजूद थे.

हिन्दुराष्ट्र - आवाज़ हिन्दुस्तान की..

देशभक्तों का एक समूह दुनिया का पहली समाचार वेब साईट चालु करने जा रहा है, जो सिर्फ सच्ची ख़बरों पर आधरित होगी और दुनिया को सच्ची ख़बरों से रु--रु कराएगी..
वे खबरे जो आप अपने टीवी पर नहीं देख पाते..
वे खबरे जो आपका तथाकथित धर्मनिरपेक्ष मीडिया आपको नहीं दिखाता...
वे खबरे जो हिन्दू और हिन्दुस्तान के हित से जुड़ीं हैं..

तो आइये आप भी शामिल हो सकतें हैं हमारे समूह में आपका भी स्वागत है..

अब आप अपने शहर की, समाज की खबरे अपने लेख, कवितायेँ आदि हमें भेज सकतें हैं..

:: हिन्दुराष्ट्र - बनेगा आपकी आवाज़ ::

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers