ताज़ा समाचार (Fresh News)

दिवाली की रात बिहार में भाजपा नेत्री की हत्या

बिहार में रोहतास जिले के राजपुर थाना क्षेत्र में शुक्रवार देर रात भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के रोहतास जिला इकाई की उपाध्यक्ष पूनम देवी की अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार भाजपा नेता पूनम देवी दीपावली की रात राजपुर स्थित अपने आवास पर मौजूद थीं, उसी समय अज्ञात अपराधियों ने उन्हें गोली मार दी। घटनास्थल पर ही उनकी मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक अपराधियों की संख्या चार-पांच बताई जाती है, जो घटना के बाद फरार हो गए।

गौरतलब है कि पूनम अधिवक्ता भी थीं। रोहतास जिले के पुलिस अधीक्षक विकास वैभव ने शनिवार को बताया कि पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। हत्या के कारणों का अब तक पता नहीं चल पाया है। रोहतास जिले में बिहार विधानसभा चुनाव के लिए छठे चरण के तहत 20 नवंबर को मतदान होना है।

केरल में मुसलमानों पर कराए गए सर्वे को लेकर बवाल

केरल में मुसलमानों पर कराए गए एक सर्वे को लेकर बवाल मच गया है। स्थानीय पुलिस ने सर्वे कराने वाली संस्था के खिलाफ मुकदमे की तैयारी कर ली है। अमेरिका के एक संगठन की ओर से कराए जा रहे इस सर्वे को धर्म के आधार पर दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने की कोशिश करार दिया गया है। इस सर्वे को लेकर स्थानीय लोगों में काफी आक्रोश है।

केंद्र ने खुफिया ब्‍यूरो से इस सर्वे के बारे में रिपोर्ट मांगा है। केंद्रीय गृह राज्‍य मंत्री एम. रामचंद्रन ने गुरुवार को कोच्चि में पत्रकारों से कहा, ‘मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है।’

इस सर्वे के तहत पूछे जाने वाले सवाल कुछ इस तरह हैं- क्‍या आप खुद को पहले भारतीय समझते हैं या मुसलामान? भारत में इस्‍लामिक कानून लागू किए जाने के बारे में आप क्‍या सोचते हैं? क्‍या आप बुरका पहना पसंद करते हैं? अमेरिकी राष्‍ट्रपति बराक ओबामा के बारे में आपका क्‍या ख्‍याल है? वगैरह।

टीएनएस नाम की इस एजेंसी का कार्यालय हैदराबाद में भी है। इस एजेंसी ने तिरुवनंतपुरम की कारिमदम कॉलोनी में गत 2 अक्‍टूबर को सर्वे किया। मुस्लिम आबादी बहुल इस कॉलोनी में करीब 100 गरीब परिवार रहते हैं। सर्वे करने वाली टीम के सभी पांच सदस्‍य महिलाएं ही थी।

83 पन्‍नों की यह प्रश्‍नावली केरल पुलिस के निशाने पर भी है। केरल पुलिस के डीजीपी जैकब पुनोज ने कहा कि इस सर्वे से सवालों से लगता है कि इससे लोगों की भावनाएं भड़क सकती हैं। हमने आईपीसी की धारा 153(ए) के तहत मामला दर्ज करने की तैयारी की है। यह धारा जाति और मजहब के आधार पर दो समुदायों के बीच नफरत फैलाने के मामले से जुड़ी है।'

Boy Swallows Scissors, Survives Unscathed...

On the long list of strange things children have swallowed, you can now add: Scissors. A 12-year-old boy in Bristol, England, gulped down a pair of nail scissors, and amazingly suffered only minor cuts.

Karon Edwards told that her son suffers from severe learning disabilities that stunt his sense of danger; she went to put the kettle on for tea and returned to find him coughing up blood. An X-ray revealed a pair of nail scissors lodged in his throat, handle-first. Doctors removed the scissors under general anesthetic, and said the boy was lucky to escape with only minor cuts.“It was such a nightmare.

I am even more careful with him now, but it is very difficult because he is getting older,” Edwards said. “I didn't know you could swallow scissors, so it came as a huge shock.”Children swallow things all the time – pennies and other coins are one of the most common (and the usual recommendation there is just to let nature take its course). Usually such mishaps aren’t life-threatening, but recently there have been huge recalls of magnetic toys that can cause major damage if the magnets become loose and are swallowed – the magnets rip through the intestines as they are pulled toward each other.

And health officials are warning parents of the dangers posed by lithium “button” batteries, which are just the right size for toddlers to pop in their mouths.But hopefully, your children’s adventures in the world of swallowing non-food items will be brief and will do no lasting damage. Parents, what’s the strangest thing your child has ever tried to eat (or perhaps stuff up their nose)? Have your say in the comments?

भाजपा का ओबामा से उदारवादी रुख अपनाने का आग्रह

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के भारत दौरे से पहले मुख्य विपक्षी दल भाजपा ने उनसे उदारवादी रुख अपनाने का आग्रह किया है। भाजपा के इस आग्रह को आउटसोर्सिंग के मुद्दे से जोड़ कर देखा जा रहा है। भाजपा महासचिव और मुख्य प्रवक्ता रवि शंकर प्रसाद ने कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति के भारत दौरे का भाजपा स्वागत करती है।

उन्होंने कहा कि अमेरिका दुनियां का सबसे बड़ा अर्थतंत्र है और इस संदर्भ में उम्मीद है कि ओबामा उदारवादी सोच अपनाएंगे। भाजपा के इस आग्रह को आउटसोर्सिंग विवाद से जोड़ कर देखा जा रहा है। गौरतलब है कि अमेरिका की तरफ से आउटसोर्सिंग पर प्रतिबंध लगा दिया गया है जिससे भारतीय आईटी उद्योग पर बुरा असर पड़ा है।

भारत चाह रहा है कि अमेरिका इस प्रतिबंध को समाप्त करे। भाजपा ने साफ किया है कि ओबामा से मुलाकात के दौरान पार्टी के प्रतिनिधि व्यक्तिगत रुप से भी उनसे आउटसोर्सिंग के मुद्दे पर चर्चा करेंगे। उम्मीद है कि भाजपा की तरफ से सुषमा स्वराज बतौर नेता प्रतिपक्ष, ओबामा से भेंट कर चर्चा करेंगी। इस मुलाकात में आउटसोर्सिंग के अलावा कश्मीर, परमाणु क्षतिपूर्ति विधेयक में आपूर्तिकर्ता की जिम्मेदारी और अमेरिका की अफगान नीति पर भी ओबामा के सामने भाजपा अपने विचार रखेगी।

कश्मीर के सिक्ख समुदाय में दहशत

शुक्रवार रात फ़ौजी लिबास पहने कुछ लोग भारत प्रशासित कश्मीर के हतमुरा गाँव में दाख़िल हो गए और गाँव वालों को ज़बरदस्ती घर से बाहर निकालने की कोशिश की. अनंतनाग ज़िले के हतमुरा के ग्रामीणों का कहना है कि ये लोग जीप में सवार थे. इस घटना के बाद से घाटी के अल्पसंख्यक सिख समुदाय के भीतर दहशत का माहौल है.

इधर पुलिस का कहना है कि ये एक गश्ती दल था और पूरा हंगामा ग़लतफ़हमी का नतीजा है.

हतमुरा के जगमोहन रैना ने कहा कि फ़ौजी वर्दी में वहाँ पहुँचे लोगों का गुट घरों के दरवाज़ों पर दस्तक दे रहा था और बार-बार उन्हें घर से बाहर आने के लिए कह रहा था.

जगमोहन रैना के अनुसार रात के समय हुई इस कार्रवाई से गाँव मे दहशत फैल गई और कुछ लोग गाँव से बाहर भाग खड़े हुए जबकि एक गुट साथ जमा होकर शोर मचाने लगा.

उन्होंने कहा कि ग्रामीणों की इस प्रतिक्रिया के बाद फ़ौजी वर्दी पहने लोगों मे अफ़रा-तफ़री मच गई और वे अपनी गाड़ी वहीं छोड़ भाग गए. बताया गया है कि इसके बाद नाराज़ ग्रामीणों ने जीप को आग लगा दी.

जगमोहन रैना ने कहा कि इसी तरह की एक घटना बुधवार को बारामूला ज़िले के उपालना गाँव में भी घटित हुई थी जिसकी जाँच की माँग सिख समुदाय ने उठाई है.

उनका कहना था कि उपालना की घटना के सिलसिले में उन्होंने भारतीय गृह मंत्री पी चिदंबरम और राज्य के मुख्य मंत्री उमर अब्दुल्लाह को शुक्रवार दिन में ही चिट्ठी भेजी है.

पुलिस का कहना है कि ये सुरक्षा बलों का एक गश्ती दल था जिसे लेकर ग्रामीणों के बीच कुछ ग़लतफ़हमी पैदा हो गई थी.

इस मामले पर पुलिस के बयान में दावा किया गया है कि प्रशासनिक और पुलिस के अधिकारियों ने मिलकर पूरे मामले को सुलझा लिया है.

ओबामा भारत को कोई रियायत न दें - पाकिस्तान

पाकिस्तान अमेरिका पर दबाव बना रहा है कि वह राष्ट्रपति बराक ओबामा की भारत यात्रा के दौरान उसे कोई रियायत नहीं दे। पाकिस्तान सरकार ने कहा कि दक्षिण एशिया में रणनीतिक संतुलन को प्रभावित करने वाला कोई भी कदम नकारात्मक परिणाम देने वाला होगा और यह क्षेत्र के हित में नहीं होगा।

सरकार ने यह भी स्पष्ट कर दिया कि सुरक्षा परिषद में भारत की स्थाई सदस्यता का अनुमोदन किए जाने जैसे कदम से दक्षिण एशिया में शांति और सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली की कश्मीर मुद्दे के लिए गठित विशेष समिति को सरकार ने अपने इस रुख से अवगत कराया।

हम ही बनूँगा बिहार का मुख्यमंत्री - लालू यादव

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने आज कहा कि सत्तारुढ़ राजग को विधानसभा चुनावों में हार का सामना करना पड़ेगा और इसी महीने वह मुख्यमंत्री बनेंगे।

लालू ने जहानाबाद जिले में एक चुनावी सभा में कहा कि बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 182 पर चुनाव संपन्न हो चुका है। शेष 61 सीटों के लिए नौ और 20 नवंबर को मतदान होंगे।

लालू ने लोगों से कहा, ‘‘यह मोबाइल का जमाना है। आप लोग फोन का उपयोग करें और विभिन्न क्षेत्रों से मतदान के रुझान के बारे में जानकारी लें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम साबित कर देंगे कि राजग का चुनावों में खाता भी नहीं खुलेगा.करारी हार होगी।’’

लालू ने कहा, ‘‘मैं आपको बताना चाहता हूं कि मैं इस महीने मुख्यमंत्री बनने जा रहा हूं ताकि जनता की बेहतर सेवा कर सकूं।’’ अपनी इस चुनावी सभा में भी लालू ने दोहराया कि जिस प्रकार से उन्होंने रेलवे का कायाकल्प किया उसी जादूगरी से वह बिहार को चमकायेंगे।’’

मध्यप्रदेश में मनरेगा के एक करोड़ रुपयों के चेक बाउन्स

मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा जनपद पंचायत द्वारा जनपद के अंतर्गत आने वाली पंचायतों को मनरेगा के तहत दिए गए लगभग एक करोड़ रुपयों के चेक बाउन्स होने की घटना प्रकाश में आयी है।

इस संबंध में जिला पंचायत सदस्य एवं पूर्व विधायक ग्यारसीलाल रावत ने प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री को शिकायत की है। उन्होंने बताया कि ग्राम लंगड़ी मेहड़ी, इनायकी व डोगलियापानी सहित करीब 20 पंचायतों को अक्टूबर माह में दिए गए करीब एक करोड़ रुपए से अधिक के चेक बाउन्स हुए।

उन्होंने आरोप लगाया कि जनपद पंचायत सेंधवा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी लखन सिंह राजपूत द्वारा कथित रूप से भ्रष्टाचार के तहत उक्त चेक बगैर काम का निर्धारण किए दिए गए हैं। उन्होंने संपूर्ण मामले की जांच सीबीआई व सेंट्रल विजिलेंस कमिश्नर से कराने की मांग की।

वहीं इस संबंध में जनपद पंचायत के कार्यपालन यंत्री ने बताया कि चेक बाउन्स होने पर अन्य खाते से पुन: भुगतान हेतु चेक प्रदान कर दिया जाएगा।

चंद्रबाबू नायडू ने महिलाओं से कर्ज न लौटाने को कहा

अलग तेलंगाना के मुद्दे पर तेलंगाना राष्ट्र समिति [टीआरएस] से पिछड़े आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और तेलुगु देसम पार्टी [टीडीपी] के अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू ने अब कर्ज की सियासत का सहारा लिया है।

कर्ज मुहैया कराने वाली माइक्रो-फाइनेंस संस्थाओं [एमएफआई] द्वारा ज्यादा ब्याज लेने की शिकायतों के बीच नायडू ने राज्य की महिलाओं से कर्ज वापस नहीं करने की अपील की है।

नायडू ने उप्पल में एक जनसभा में कहा, 'सरकार ने स्वयं सहायता समूह चलाने वाली महिलाओं को तीन फीसदी ब्याज पर कर्ज मुहैया कराने का वादा किया था। जब तक ब्याज दरें कम नहीं की जातीं, कर्ज वापस मत करो। कर्ज लौटाने के लिए यदि एमएफआई के एजेंट आपको परेशान करें तो उन्हें कमरे में बंद कर दो। इस काम में टीडीपी के कार्यकर्ता आपकी मदद करेंगे।'

उन्होंने एमएफआई पर लगाम कसने के लिए सरकार से एक नियामक बनाने की भी मांग की। नायडू ने आरोप लगाया कि एमएफआई ने बैंकों से दस हजार करोड़ रुपये उधार लिये जबकि लोगों को 12 हजार करोड़ रुपये तक के कर्ज बांटे। उन्होंने कहा, 'एमएफआई रियायती दरों पर बैंकों से पैसा लेकर उसी धन को महिलाओं को 36 से 60 फीसदी ब्याज पर बांट रही हैं। यह पैसा बैंक खुद ही गरीबों को कम दरों पर मुहैया क्यों नहीं कराते? सरकार ने महिलाओं को बैंकों से कम दरों पर कर्ज उपलब्ध कराने का वादा किया था लेकिन हकीकत में ऐसा कुछ नहीं हो रहा।'

क्या है माइक्रोफाइनेंस ?

इसके तहत समाज के सबसे निचले तबके को छोटी रकम बतौर कर्ज दी जाती है। इसके बदले में संस्थाएं कर्ज पाने वाले से गारंटी के रूप में किसी भी तरह की कोई चीज जैसे जेवर, जमीन आदि गिरवी नहीं रखतीं। कर्ज लेने के इच्छुक लोगों को स्वयं सहायता समूह बनाना होता है। इस तरह के कर्ज देने का काम एनजीओ या गैर बैंकिंग वित्तीय संस्थाएं करती हैं।

आध्र प्रदेश में रिकॉर्ड खराबराज्य में माइक्रो फाइनेंस कंपनियों द्वारा जबरन कर्ज वसूली और कर्ज नहीं चुना पाने वालों की खुदकुशी के कई मामले सामने आए हैं। इन शिकायतों के मद्देनजर जहां रिजर्व बैंक ने एक पैनल का गठन किया है, वहीं आध्र प्रदेश सरकार ने कानून बनाकर सख्ती की है। माइक्रो फाइनेंस कंपनियों द्वारा कर्ज पर 34 से 60 फीसदी तक ब्याज वसूलने के आरोप लगते रहे हैं।

ओबामा के बयान पर वाम दल गरम, कांग्रेस नरम

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता संबंधी भारत के दावे को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा द्वारा की गयी टिप्पणी पर वाम दलों ने निराशा जतायी वहीं कांग्रेस ने उनसे अलग राय व्यक्त की।

कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने आज यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘ हम राष्ट्रपति बराक ओबामा के विचारों का सम्मान करते हैं लेकिन तथ्य यह है कि सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि विश्व के अन्य प्रमुख देश भी चाहते हैं कि सुरक्षा परिषद 2010 की वास्तविकता को परिलक्षित करे न कि 1945 की। ’’ तिवारी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुधार जारी है। अमेरिका और अन्य विभिन्न पक्ष सक्रिय रूप से इस प्रक्रिया में शामिल हैं।

उधर वाम दलों ने कहा कि वे ओबामा के बयान से निराश हैं। लोकसभा में माकपा के नेता बासुदेव आचार्य ने कहा कि निश्चित तौर पर यह निराशाजनक बयान है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार को चीन तथा ब्राजील जैसे देशों के साथ संपर्क करना चाहिए।

भाकपा नेता डी राजा ने कहा कि ओबामा के बयान से परिलक्षित होता है कि भारत के दावों के समर्थन में उसे आपत्ति है।

आदर्श सोसायटी घोटाले में सीबीआई ने मुझसे संपर्क नहीं किया - अशोक चव्हाण

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने आज कहा कि आदर्श सोसायटी घोटाले के सिलसिले में जानकारी हासिल करने के लिए सीबीआई ने अब तक उनसे संपर्क नहीं किया है।

चव्हाण ने यहां मंत्रालय में कहा ‘‘अब तक जांच के लिए सीबीआई ने मुझसे संपर्क नहीं किया है। सीबीआई जांच का मैंने हमेशा स्वागत किया है।’’ मुख्यमंत्री ने कहा ‘‘मुझे लगता है कि रक्षा विभाग जांच शुरू कर चुका है क्योंकि कहा जा रहा है कि जमीन रक्षा विभाग की है।’’ मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार अपना काम कर रही रही है। उन्होंने दोहराया कि जमीन राज्य सरकार की है।

राहुल मुझसे 10 साल बड़े, वो मेरी पीढ़ी के नहीं - वरुण गाँधी

भारतीय जनता पार्टी के युवा सांसद और राष्ट्रीय सचिव वरुण गांधी खुद को उम्र में 10 साल बड़े चचेरे भाई एवं कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव राहुल गांधी की पीढ़ी का नहीं मानते.

राहुल जहां एक ओर गरीबों को देश की असली शक्ति बता कर मुर्ख बना रहे हैं, वहीं वरुण आम जनता से संवाद और सम्पर्क बढ़ा कर ‘‘गरीब केन्द्रित’’ राजनीति की राह पर चलने पर जोर दे रहे हैं।

वरुण गांधी ने आज यहां कहा कि ‘‘मेरी एक सोच है वह सोच यह है कि राजनीति चुनाव केन्द्रित नहीं होनी चाहिए बल्कि गरीब केन्द्रित होनी चाहिए।’’ वरुण लखनउ से सटे हरदोई जिले के कुछ बाढ़ पीड़ित लोगों से मिलने के लिए आज यहां अमौसी हवाई अड्डे पर पहुंचने के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि ‘‘राजनीति गरीब केन्द्रित होनी चाहिए..हालांकि आज कोई गरीब भी अपने को गरीब नहीं कहलाना चाहता कारण कि लोगों में आत्मगौरव और सम्मान की भावना बढ़ी है, जो कि अच्छी बात है।’’ वरुण ने कहा कि पार्टी के सभी राजनीतिक कार्यकर्ताओं और नेताओं को चाहिये कि वे जमीनी राजनीति करें और समाज के हर तबके का विश्वास जीतें..सभी को चाहिए कि वे दीवाली के दिन किसी बाढ़ पीड़ित गांव में जाकर वहां दिया जलायें।

यह पूछे जाने पर कि कहीं आप भी वही तो नहीं कर रहे जो राहुल गांधी कर रहे है, वरुण ने कहा, ‘‘जितने लोग घूम रहे हैं --सभी सीख रहे हैं --राहुल जी मुझसे उम्र में 10 साल बड़े हैं --मैं उन्हें अपनी पीढ़ी का नहीं मानता।’’

आजम खां निष्कासन रद्द फिर सपा में

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने सपा से निकाले गए पूर्व महासचिव आजम खां का निष्कासन आज रद्द कर दिया।

पार्टी प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने यहां बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राम गोपाल यादव ने आजम को पत्र लिखकर उनका निष्कासन रद्द किये जाने की सूचना दी है।

उन्होंने बताया कि आजम को लिखे पत्र में कहा गया है कि पार्टी के मुखिया मुलायम ने उनका निष्कासन रद्द करते हुए उनसे अपेक्षा की है कि वह पहले की ही तरह पार्टी की सेवा करते रहेंगे और उनके जैसे वरिष्ठ तथा अनुभवी नेता के सहयोग से सपा और मजबूत होगी।

लोकसभा चुनाव में पूर्व भाजपा नेता कल्याण सिंह को साथ लेने के विरोध में आजम की पार्टी नेतृत्व से ठन गई थी और उन चुनावों के बाद पार्टी ने उन्हें निकाल दिया था।

उल्लेखनीय है कि सपा में आजम की नाराजगी का कारण रहे अमर सिंह और कल्याण सिंह से पार्टी अपना नाता तोड़ चुकी है जिसके बाद से पार्टी में आजम की वापसी की सम्भावना के बारे में कयास लगने लगे थे।

सपा के संस्थापक सदस्यों में से एक रहे आजम कभी मुलायम के बेहद करीबी सहयोगी थे और राज्य में पार्टी संगठन तथा सपा सरकार में महत्वपूर्ण पदों पर रह चुके हैं।

पंजाब बंद - सिक्ख नेता हिरासत में

पुलिस ने अमृतसर में रेलवे पटरियों पर धरना दे रहे कुछ सिख नेताओं को गिरफ्तार कर लिया है। ये नेता 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों के विरोध में खालसा एक्शन कमेटी :केएसी: और दल खालसा सहित कुछ अन्य सिख संगठनों द्वारा आयोजित पंजाब बंद के दौरान रेलवे लाइन पर धरना दे रहे थे।

अमृतसर पुलिस ने आज सुबह एहतियात के तौर पर दल खालसा के प्रवक्ता कंवर पाल सिंह और केएसी के अध्यक्ष भाई मोखम सिंह को गिरफ्तार कर लिया।

कंवर पाल सिंह ने आरोप लगाया कि वह लोग अमृतसर रेलवे स्टेशन के निकट रेल पटरियों पर शांतिपूर्वक धरना दे रहे थे लेकिन पुलिस ने उन्हें जबर्दस्ती वहां से हटाया।

पुलिस का कहना है कि धरने पर बैठे लोगों ने अमृतसर-दिल्ली स्वर्ण शताब्दी को रोकने की कोशिश की।

कंवर ने पुलिस पर यह भी आरोप लगाया कि बंद को विफल करने के लिए पूरे राज्य से उनके करीब 300 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि राज्य के विभिन्न स्थानों पर जो दुकानदार और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान स्वैच्छिक रूप से आज के बंद में शामिल होना चाहते थे उन्हें बलपूर्वक रोक दिया गया।

पुलिस ने इन सभी आरोपों का खंडन किया है।

औरंगाबाद में नक्सलियों ने स्कूल में बम्ब लगाया

बिहार की औरंगाबाद जिला पुलिस ने देव थानान्तर्गत कताकी गांव के एक सरकारी विद्यालय में नक्सलियों द्वारा रखे चार बमों का पता लगाया है।

पुलिस उपाधीक्षक अख्तर हुसैन ने बताया कि कल देर रात गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस को उक्त जानकारी मिली ।

उन्होंने बताया कि पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गयी है और विद्यालय परिसर सहित पास के इलाके को खाली करा दिया गया है।

हुसैन ने बताया कि पुलिस ने पूरे विद्यालय परिसर को अपने घेरे में ले लिया है और बमों को निष्क्रिय करने का प्रयास किया जा रहा है ।

उल्लेखनीय है कि बिहार विधान सभा चुनाव के छठे एवं अंतिम चरण के अन्तर्गत औरंगाबाद जिले के कुअंबा विधान सभा क्षेत्र में आगामी 20 नवम्बर को मतदान होना है। ऐसी आशंका जतायी जा रही है कि उक्त विद्यालय में मतदानकर्मियों और सुरक्षाकर्मियों को निशाना बनाने के उद्देश्य से नक्सलियों ने वहां बम लगाया ।

विदित हो कि गत 28 अक्टूबर को औरंगाबाद जिले के मदनपुर थानान्तर्गत जोरदी स्कूल भवन में भी नक्सलियों ने तीन केन बम रखे, जिसे निष्क्रिय करने के दौरान बम निरोधक दस्ते का एक जवान घायल हो गया था।

भारतीय अमेरिकी निक्की हेली ने महिला गवर्नर बनकर इतिहास रचा

भारतीय अमेरिकी निक्की हेली ने अमेरिका के साउथ कैरोलिना प्रांत की पहली महिला गवर्नर बनकर इतिहास रच दिया है, वहीं उनकी रिपब्लिकन पार्टी ने देशभर में हुए मध्यावधि चुनाव में राष्ट्रपति बराक ओबामा की डेमोक्रेटिक पार्टी को करारी शिकस्त दी है।

पंजाब से गए सिख माता-पिता की संतान हेली साउथ कैरोलिना की गवर्नर बनने वाली पहली महिला हैं। लुसियाना के बॉबी जिंदल के बाद वह किसी अमेरिकी प्रांत का गवर्नर पद जीतने वाली दूसरी भारतीय अमेरिकी हैं। अनाधिकारिक नतीजों के मुताबिक, हेली को 52 फीसदी मत मिले जबकि उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी विंसेट शीहान को 46 फिसदी मत मिले।

हैली और उनके अभियान दल को यह चिर प्रतीक्षित जीत कुछ रोमांचों के बाद मिली। मतगणना के कुछ दौर में वह पीछे रहीं। फिर उन्होंने शीहान की बराबरी की और आखिरकार शानदार जीत हासिल की। हालांकि, शेष भारतीय अमेरिकी उम्मीदवारों के लिए समाचार उतना सुखद नहीं है क्योंकि अंतिम रिपोर्ट मिलने तक वे सभी प्रतिनिधि सभा के चुनाव में पीछे चल रहे थे।

मुस्लिम वोटों की चाहत लोजपा को भी, कांग्रेस को भी...

अयोध्या फैसले पर कांग्रेस पर ‘‘चुप्पी’’ साधने का आरोप लगाते हुए लोक जनशक्ति पार्टी ने आज कहा कि सत्ताधारी पार्टी द्वारा बाबरी मस्जिद के विध्वंस की निंदा सिर्फ ‘‘मुस्लिम वोटों कों गंवाने ’’ की क्षतिपूर्ति करने का प्रयास भर था

इसने कहा, ‘‘लोजपा को आश्चर्य है कि अयोध्या मुद्दे पर इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले पर कांग्रेस ने चुप्पी साध रखी है.. सिर्फ मस्जिद विध्वंस को शर्मनाक करार देने से काम नहीं चलेगा । इससे कांग्रेस का पर्दाफाश हो गया है ।’’

उधर अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सत्र को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मस्जिद विध्वंस की निंदा करते हुए कहा कि यह शर्मनाक एवं आपराधिक कृत्य था और इसके जिम्मेदार लोगों पर अवश्य कार्रवाई होनी चाहिए ।

तो दोनों दल अपने अपने हिसाब से मुस्लिम वोट बैंक को रिझाने में लगे हुयें हैं ..

मूल्य वृद्धि के लिये सोनिया गाँधी जिम्मेदार - मायावती

उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती ने महंगाई रोकने के लिये राज्य सरकारों को केन्द्र के बराबर जिम्मेदार बताने सम्बन्धी कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के बयान पर आज यहां कहा कि प्रदेश सरकार तो केन्द्र द्वारा तैयार की गई राष्ट्रीय नीति पर ही अमल कर रही है।

मायावती ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में पूछे गए एक सवाल पर कहा ‘‘जब राष्ट्रीय स्तर पर खाद्यान्न या अन्य चीजों की कीमतों से सम्बन्धित नीति बनाई जाती है तो उसमें राज्यों की कोई भूमिका नहीं होती है।’’ उन्होंने कहा कि जब राष्ट्रीय स्तर पर कोई नीति बनाई जाती है तो राज्यों को उस पर अमल करना ही होता है।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘मूल्य वृद्धि के लिये केन्द्र सरकार ही पूरी तरह जिम्मेदार होती है।’’ उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को महंगाई पर नियंत्रण के लिये कोई नीति बनानी चाहिये।

उन्होंने आरोप लगाया कि केन्द्र सरकार की आर्थिक नीतियां बेरोजगारों और गरीबों के हित में नहीं हैं। उसकी नीतियां पूंजीपतियों के हितों को ध्यान में रखकर बनाई जाती हैं जिससे महंगाई बढ़ती है ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि गरीबी की रेखा से नीचे :बीपीएल: जीवन-यापन करने वाले लोगों को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने अपने सीमित संसाधनों से उनके कल्याण के लिये योजना शुरू की है।

सोनिया गाँधी के लिए बाबरी को गिराना शर्मनाक पर भ्रष्‍टाचार का स्वागत

राष्ट्रमंडल खेलों के आयोजन में भ्रष्टाचार के विवादों से निपटने से पहले ही महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण का आदर्श सोसायटी कांड में फंसना कांग्रेस के लिए बड़ी चुनौती बन गया है। लेकिन पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक को संबोधित करते हुए भ्रष्टाचार जैसे अहम मुद्दे जिक्र तक नहीं किया।

कांग्रेसी कार्यकर्ताओं को उम्‍मीद थी‍ कि पार्टी अध्यक्ष अपने संबोधन में पार्टी की छवि और सार्वजनिक जीवन में भ्रष्टाचार की समस्या पर चिंता जाहिर कर सकती हैं जबकि सोनिया ने इसके उलट पार्टी द्वारा किए गए कार्यों का गुणगान करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं से कांग्रेस की राजनैतिक जमीन को और मजबूत करने का आह्वान किया।

सोनिया गांधी ने अपने भाषण में यूपीए सरकार द्वारा शुरु की गई योजनाओं का हवाला देते हुए राज्य सरकारों पर इन योजनाओं को सही से लागू न करने का आरोप लगाया। सोनिया ने कहा कि केंद्र द्वारा बनाई गई कल्याणकारी योजनाओं का श्रेय तो राज्य सरकारे ले लेती हैं लेकिन इन योजनाओं को प्रभावी रूप से लागू करने की जिम्मेदारी से बचती रहती है।

सोनिया ने कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली ठीक से चलाना, कालाबाजिरियों, सटोरियों के खिलाफ कार्रवाई करना राज्यों की जिम्मेदारी है। प्रत्येक कांग्रेसी राज्यों पर अपने काम करने के लिए दवाब बनाए। कश्मीर में हुई हिंसा पर वेदना प्रकट करते हुए सोनिया ने कहा कि कश्मीर में हमारे सामने नया संकट है, पिछले कुछ महीनों में जो कुछ हुआ वो पीड़ादायक है।

सोनिया ने कहा कि कश्मीर की सरकार से जो लोग भी असंतुष्ट हैं मैं उनसे आग्रह करती हूं कि वो सरकार पर विश्वास करे। शांति बहाल करने का एक मौका दें और एक बेहतर भविष्य की बुनियाद रखने की कोशिश करे। सोनिया गांधी ने कहा कि अयोध्या विवाद में इलाहबाद हाईकोर्ट के फैसला किसी भी रूप में बाबरी मस्जिद को गिराए जाने के न्यायिक नहीं ठहराता है।

बाबरी को गिराना शर्मनाक और आपराधिक कृत्य था। जो लोग भी इसमे शामिल थे उन्हें सजा अवश्य मिलेगी। सोनिया ने कहा कि वो सबसे ज्यादा बढ़ रही महंगाई से चिंतित हैं। आंकड़ों के कुछ भी कह सकते हैं लेकिन देश का आम आदमी जब दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करता है तो दुख होता है। महंगाई घटाने और विकास का सही अर्थों में मतलब यही है कि देश के आम नागरिकों का जीवन बेहतर हो।

सोनिया ने कहा कि हम उस संगठन के कार्यकर्ता हैं जिसने आधुनिक भारत की बुनियाद डाली है। हमारी पार्टी ने देश को एक मजबूत धागे से जोड़े रखा है। एक मजबूत और सेक्यूलर भारत बनाया है। एक ऐसा भारत जिसकी आज दुनिया में खास जगह है। सोनिया ने कहा कि देश में ऐसी कोई दूसरी पार्टी नहीं है जो हर गांव, हर कस्बे और हर मोहल्ले में मौजूद हो। हम सिर्फ एक कारगर चुनावी मशीन नहीं बने रह सकते जो केवल चुनाव के समय ही काम करना शुरु करती है। बल्कि हमे हमेशा काम करते रहना है।

सोनिया गांधी ने आने वाले समय में होने वाले विधानसभा चुनावों पर जोर दिया और पार्टी कार्यकर्ताओं से अभी से सक्रिय हो जाने की अपील की। सोनिया ने कहा कि हमने कई राज्यों में दूसरी पार्टियों के साथ तालमेल बनाया है। हम अन्य पार्टियों का सम्मान करते हैं। इसका मतलब यह नहीं है कि हम अपनी पार्टी की ताकत को बढ़ाना या राजनीतिक जगह बनाना छोड़ दे। हमे दस राज्यों में चुनावों का सामना करना है। यह कांग्रेस के लिए इम्तेहान है। हमे मिलकर इसका सामना करना है। अच्छे उम्मीदवारों का चयन हो, सही ढंग से प्रचार हो हमे इसकी व्यवस्था करनी है। अंत में सोनिया ने कहा कि कांग्रेस के प्रत्येक कार्यकर्ताओं को समाज के कमजोर वर्गों के जीवन में सुधार करने के प्रयास करने है। देश के आम नागरिक का विकास ही कांग्रेस का विकास है।

संघ के संबंध आतंकवादियों से - प्रणव मुखर्जी,

कांग्रेस ने आज राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ तथा उससे जुड़े संगठनों पर आतंकवाद में संलिप्त होने का आरोप लगाया।

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने आज यहां हुई एआईसीसी की बैठक में पार्टी का वक्तव्य पेश करते हुए कहा, ‘‘विस्तृत जांच के जरिये हाल ही में हुए खुलासे से संघ तथा उससे जुड़े संगठनों का असली चरित्र उजागर होता है।

उन्होंने कहा, ‘‘जांच में उनके :संघ के: सदस्यों की आतंकवादी गतिविधियों में संलिप्तता के संकेत मिलते हैं।’’ वक्तव्य में संघ के संदर्भ को शामिल किये जाने को जायज ठहराते हुए मुखर्जी ने कहा कि आरएसएस को बेनकाब करना होगा। उसके आतंकवादी गतिविधियों के साथ संबंधों की बात हाल ही में मालूम चली है।

एआईसीसी के वक्तव्य में कहा गया कि जांच में आतंकवादी गतिविधियों में संघ के सदस्यों की संलिप्तता के संकेत मिलते हैं।

वक्तव्य कहता है, ‘‘साम्प्रदायिक और आतंकवादी तत्वों का स्रोत चाहे कुछ भी हो, उनका मकसद हमारे राष्ट्र के ताने-बाने को छिन्न-भिन्न करना है। हम पूरी ताकत से ऐसे तत्वों का मुकाबला करेंगे। कांग्रेेस उन सभी ताकतों से लड़ेगी जो साम्प्रदायिक नफरत, कट्टरता और दुराग्रह फैलाकर लोगों को धर्म के आधार पर बांटती हैं।’’

सरकार मुझ पर राजद्रोह का आरोप नहीं लगाएगी - अरुंधती राय

अरुंधति ने कहा है कि सरकार ने ये संकेत दिए हैं कि वो उनके और अन्य लोगों के ख़िलाफ़ एक सम्मेलन में कश्मीर की आज़ादी पर दिए गए वक्तव्य पर राजद्रोह का आरोप नहीं लगाएगी, वहीं कुछ संगठन घोषणा कर रहे हैं कि वे उन्हें नहीं छोड़ेंगे.

अरुंधति रॉय ने अपने घर के बाहर हुई घटना को लेकर मीडिया की भूमिका पर सवाल उठाए हैं.उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने उनके घर के बाहर आंधे घंटे तक नारेबाज़ी और तोड़फोड़ की थी. अरुंधति रॉय का आरोप है कि मीडिया इन घटनाओं पर मूक दर्शक बनी रही.

अपने एक बयान में अरुंधति रॉय ने कहा है- 31 अक्तूबर की सुबह 11 बजे क़रीब 100 लोग मेरे घर आए. इन लोगों ने मेरे घर का गेट तोड़ दिया और अंदर घुसकर तोड़-फोड़ की.अरुंधति ने कहा कि इन लोगों ने कश्मीर पर दिए उनके बयान के ख़िलाफ़ नारेबाज़ी की और सबक सिखाने की धमकी दी.

उन्होंने कहा कि उस समय कई मीडिया समूहों के पत्रकार वहाँ मौजूद थे.पिछले दिनों अरुंधति ने कहा था कि कश्मीर कभी भी भारत का अभिन्न अंग नहीं रहा है.अरुंधति के मुताबिक़ इस घटना के बाद पुलिस ने उन्हें सलाह दी कि भविष्य में उन्हें अपने घर के आस-पास ओबी वैन खड़े दिखे, तो वे उन्हें बताएँ.पुलिस का कहना था कि उन्हें इससे ये संकेत मिलते हैं कि यहां कोई ग्रुप आने वाला है.

एआईसीसी की बैठक में चह्वाण, कलमाड़ी सोनिया के साथ दिखे

हाल ही में उठे मुंबई के आदर्श आवासीय सोसायटी घोटाला मामले में कांग्रेस को फजीहत में डालने वाले महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री अशोक चह्वाण मंगलवार को एआईसीसी की बैठक में पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ मंच पर बैठे नजर आए, वहीं राष्ट्रमंडल खेलों में भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे पार्टी सांसद सुरेश कलमाड़ी भी मंच के ठीक नीचे एआईसीसी के सदस्यों के लिए निर्धारित स्थान पर ही मौजूद थे।

ये दोनों नेता अन्य सदस्यों से खूब बातें और हंसी-ठिठोली करते देखे गए। निर्धारित घोषित समय से दो घंटे बाद राष्ट्रीय राजधानी के तालकटोरा स्टेडियम में शुरू हुई एआईसीसी के सदस्यों की बैठक में कांग्रेस महासचिव राहुल गांधी मंच पर सबसे अंत में पहुंचे और पीछे की पंक्ति में जाकर बैठ गए।

इस बीच, स्टेडियम के अंदर मौजूद पार्टी सदस्यों की ओर से आवाजें उठने लगी कि राहुल को अग्रिम पंक्ति में बिठाया जाए और उनके जयकारे भी लगाए गए। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह बैठक में सोनिया गांधी से कुछ मिनट पहले पहुंचे। उनके आने पर मंच और सभागार में मौजूद सभी सदस्य खड़े हो गए और सोनिया के आगमन का इंतजार करते रहे। सोनिया करीब दो-तीन मिनट बाद आईं और तब तक सिंह समेत सभी नेता और पार्टी सदस्य अपने स्थानों पर खडे़ ही रहे।मंच पर सभी नेताओं के बैठने पर सोनिया सबसे आगे और सबसे ऊंची नजर आ रही थीं।

दरअसल, वह एक के बजाय तीन गावतकियों पर बैठी थीं। दो गावतकियों को मिलाकर उस पर एक और गावतकिया रख दिया गया था और सोनिया उस पर बैठकर सबसे ऊंची नजर आ रही थीं।प्रधानमंत्री के आगमन के कुछ ही देर बाद उन्हीं की वेशभूषा और चाल-ढाल वाला एक डुप्लीकेट प्रेस दीर्घा में आकर बैठ गया, जिसका मीडियाकर्मियों सहित सभी ने भारी स्वागत किया। इस पर सोनिया ने मुड़कर प्रेस दीर्घा की ओर देखा और गुरमीत सिंह सेठी नामक मनमोहन के इस डुप्लीकेट को देखकर वह भी अपनी हंसी नहीं रोक पाई।

मंच पर जगह पाने वालों में केंद्रीय मंत्री प्रणब मुखर्जी और गुलाम नबी आजाद सहित लगभग 10 लोग गांधी टोपी लगाए हुए थे। मंच पर आने के कुछ ही मिनट में प्रणब सहित कई लोगों ने यह टोपी उतार दी। मंच से नीचे पंक्तियों में बैठे पर्यावरण राज्य मंत्री जयराम रमेश पर संगीत का काफी असर दिख रहा था। वह सारे जहां से अच्छा और एकला चलो गीतों पर अपनी उंगलियों और पैरों से थाप देते नजर आए। बैठक की शुरुआत राष्ट्रगीत वंदेमातरम से हुई।

अशोक चव्हाण का नाम भूमि घोटाले में भी

आदर्श हाउसिंग सोसाइटी घोटाले को लेकर पहले से ही विवादों में घिरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण को नए आरोप का सामना करना पड़ रहा है कि उन्होंने उद्योग मंत्री रहते हुए महत्वपूर्ण भूमि पार्टी के पदाधिकारियों के रिश्तेदारों को आवंटित की थी।

सूचना का अधिकार :आरटीआई: कार्यकर्ता विलास वानखेड़े द्वारा जिला खनन अधिकारी से मिली जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख माणिकराव ठाकरे के पुत्र अमोल ठाकरे और यवतमाल के कांग्रेस विधायक वामनराव कसावर के पुत्र प्रवीण कसावर उन लाभान्वितों में शामिल हैं जिन्हें 425 एकड़ भूमि आवंटित की गयी थी। यह आवंटन 2008 में विदर्भ क्षेत्र में चूना पत्थर खनन के लिए किया गया था। उस समय चव्हाण उद्योग मंत्री थे।

वानखेडे ने आज कहा कि यवतमाल जिले के जरी तालुका में भूमि का आवंटन किया गया था। उसी के पास अनिल अंबानी का रिलायंस सीमेंटेशन संयंत्र है। यह क्षेत्र चूना पत्थर और डोलोमाइट के मामले में धनी है।

माणिकराव ठाकरे ने कहा कि उनके पुत्र ने भूमि के लिए आवेदन करने के पहले पूरी प्रक्रिया का पालन किया था।

इस बीच विदर्भ जनांदोलन समिति के अध्यक्ष किशोर तिवारी ने आज आरोप लगाया कि यवतमाल के आरक्षित जंगलों में एक हजार हेक्टेयर भूमि का अवैध आवंटन किया गया है।

रो रो कर सुनाई सिक्ख दंगों की दास्तान

1984 के सिख विरोधी दंगों में अपने तीन भाइयों को गंवाने वाले एक व्यक्ति ने आज अदालत को बताया कि किस तरह दंगाइयों ने घरों को निशाना बनाया और उन पर हमले किए जिसमें पीड़ितों ने आश्रय ले रखा था इसी अदालत में सज्जन कुमार के खिलाफ सुनवाई चल रही है

प्रत्यक्षदर्शी जगदीश सिंह ने अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सुनीता गुप्ता से कहा, ‘‘मैंने देखा कि लाठी और सरिया से लैस भीड़ मेरी बहन जगदीश कौर के घर में घुसी और खिड़कियां एवं लोहे का गेट पूरी तरह तोड़ दिया गया ।’’ चौथे दिन जिरह के दौरान उन्होंने अदालत से कहा, ‘‘एक नवंबर 1984 को हमारे घर पर भी हमला किया गया.. दंगाइयों ने हमारे घर पर हमला किया और फर्नीचर, मोटरसाइकिल आदि में आग लगा दी ।’’

प्रत्यक्षदर्शी ने दंगे के दौरान की घटनाओं को अपनी बहन के पति एवं पुत्र की हत्या से भी जोड़ा । 31 अक्तूबर 1984 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद दंगे भड़के थे ।

प्रत्यक्षदर्शी की गवाही किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंची और इसके कल भी जारी रहने की संभावना है ।

19 अक्तूबर को अपनी गवाही में सिंह ने अदालत में कुमार की पहचान दंगे के दौरान उनके भाइयों की हत्या के लिए भीड़ को उकसाने वाले के रूप में की ।

43 वर्षीय सिंह शिकायतकर्ता जगदीश कौर के रिश्तेदार भी हैं जिनके पति केहर सिंह और एक पुत्र की दंगे के दौरान हत्या कर दी गई थी ।

लालू यादव पर चुनाव आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज

पटना के एक पोलिंग बूथ पर अपनी पत्नी बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी सहित परिवार के अन्य सदस्यों के साथ वोटिंग करने पहुंचे लालू प्रसाद पर चुनाव आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज करने का आदेश दिया गया है।

निर्वाचन अधिकारी मोहम्मद मकसूद आलम ने बताया कि किसी विशिष्ट व्यक्ति के बॉडीगार्ड को मतदान केंद्र के 100 मीटर के दायरे में खुलेआम हथियार लेकर जाने की अनुमति नहीं है। लेकिन दीघा विधानसभा सीट के मतदान केंद्र संख्या 118 पर वोट डालने पहुंचे लालू प्रसाद ने इसका ख्याल नहीं रखा।

उन्होंने बताया कि इस मामले में पटना सदर प्रखंड विकास अधिकारी अशोक कुमार को पटना एयरपोर्ट थाने में प्राथमिकी दर्ज करने के आदेश दिए गए हैं। लालू अपनी पत्नी, बेटे तेजप्रताप और बेटी रागिनी के साथ वेटनेरी कॉलेज स्थित पोलिंग बूथ में वोट डालने पहुंचे थे।

लालू और राबड़ी दोनों के पास जेड प्लस सिक्यूरिटी है। वोट डालने पहुंचे लालू और उनकी पत्नी ने मीडिया से कोई बात नहीं की, पर राबड़ी ने इतना जरूर कहा कि वोटिंग के लिए उन्हें पोलिंग बूथ के भीतर जाने दें।

वोट डालने के बाद लालू मुस्कुराते हुए बाहर निकले और बिहार विधानसभा की बाकी सीटों पर प्रचार के लिए पटना एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए।

भाजपा महिला मोर्चा का देशद्रोही अरुंधती के घर के बाहर हंगामा



सौजन्य : सहारा समय

भाजपा महिला मोर्चा ने अरूंधती के घर पर प्रदर्शन किया,पुलिस कर रही जांच

भाजपा महिला कार्यकर्ताओं के एक समूह ने आज यहां चाणक्यपुरी स्थित अरूंधती राय के निवास स्थान के बाहर कश्मीर के संबंध में की गयी उनकी टिप्पणी और सरकार द्वारा उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने के विरोध में प्रदर्शन किया

पुलिस एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि भाजपा की दिल्ली महिला इकाई की प्रमुख शिखा राय के नेतृत्व में पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने अरूंधती के निवास के बाहर प्रदर्शन किया और उनके कश्मीर संबंधी विवादित बयान के विरूद्ध नारे लगाये ।

उन्होंने बताया कि प्रदर्शन संबंधी सूचना मिलते ही दिल्ली पुलिस राय के निवास पर पहुंची लेकिन वहां पर कोई भी प्रदर्शनकारी नहीं मिला ।

उन्होंने कहा कि हम टेलिविजन फूटेज देखेंगे और इस बात का पता लगायेंगे कि इस प्रदर्शन के पीछे किसका हाथ है । फिलहाल किसी का भी नाम नहीं ले सकते है ।

भाजपा की वरिष्ठ नेता स्मृति इरानी ने टेलीफोन पर बताया कि पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं ने राय की कश्मीर के संबंध में की गयी टिप्पणी और सरकार द्वारा उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने के विरोध में प्रदर्शन किया ।

उन्होंने कहा कि राय ने उस देश के खिलाफ बयान दिया है जहां पर वह रहती हैं । विचारों की अभिव्यक्ति की स्वतंत्रा का दुरूपयोग नहीं किया जाना चाहिए । हम चाहते है कि सरकार उसके खिलाफ कार्रवाई करे ।

इस महीने के शुरू में दिल्ली में कश्मीर के संबंध में आयोजित एक संगोष्ठी ‘ आजादी.द ओनली वे का आयोजन हुआ था जिसमें राय ने कहा ‘‘ कश्मीर कभी भी भारत का अभिन्न अंग नहीं रहा है । यह एक ऐतिहासिक तथ्य है ।यहां तक कि केंद्र सरकार भी इस बात को स्वीकार कर चुकी है । ’’

मध्य प्रदेश में 5 रूपये की खाने की थाली - राम रोटी

मध्य प्रदेश के नगर प्रशासन विभाग द्वारा शहरी मेहनतकश गरीब लोगों के लिए रैन बसेरों के माध्यम से शुरू की जा रहीराम रोटीयोजना की शुरुआत भोपाल में दो नवंबर से होगी। अगले दो साल में इसका विस्तार सभी 14 नगर निगमों और 96 नगर पालिकाओं में किया जाएगा।

नगर प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि दो नवंबर को भोपाल में योजना के शुभारंभ के बाद तीन नवंबर को इंदौर एवं जबलपुर तथा चार नवंबर को ग्वालियर में योजना की शुरुआत होगी। प्रारंभिक तौर पर फिलहाल ‘राम रोटी’ योजना इन चार शहरों में स्थित 12 रैन बसेरों में शुरू की जा रही है।

उन्होंने कहा कि योजना का संचालन संबंधित नगर निगमों द्वारा किया जाएगा। गांवों से प्रतिदिन बड़ी संख्या में अर्धकुशल और अकुशल श्रमिक रोजगार की तलाश में नजदीकी शहरों में आते हैं। इनमें मजदूरों के अलावा मोची, बढ़ई, पेंटर, नाई आदि होते हैं। इन्हें रात्रि विश्राम के लिए धर्मशालाओं या अन्यत्र स्थान प्राप्त करने में दिक्कत आती है। साथ ही शहरों में मिलने वाला महंगा भोजन उनकी आर्थिक क्षमता से मेल नहीं खाता, जिसके कारण उन्हें परेशानी होती है।

बदजुबान राबड़ी देवी के खिलाफ मामला दर्ज

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपशब्द कहने पर राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री और विपक्ष की नेता श्रीमती राबड़ी देवी के खिलाफ दरभंगा की एक अदालत में आज शिकायती मामला दर्ज कराया गया।

जनता दल यूनाईटेड के जिला उपाध्यक्ष अशोक कुमार ठाकुर ने राष्ट्रीय जनता दल की वरिष्ठ नेता श्रीमती राबड़ी देवी पर परसों रोड शो के दौरान मुख्यमंत्री के खिलाफ अपशब्द कहे जाने को लेकर मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी पीयुष कमल दीक्षित के यहां शिकायती मामला दर्ज कराया है।

श्री ठाकुर ने शिकायती पत्र में श्रीमती राबड़ी देवी पर 29अक्टूबर 2010 को पटना में रोड शो के दौरान श्री कुमार के खिलाफ चोर, बेइमान एवं अन्य अपशब्द कहे जाने का आरोप लगाते हुये यह शिकायत दर्ज कराई है। श्री दीक्षित ने इस शिकायत को अपने ही पास जांच के लिये रखते हुए सुनवाई की तिथि 20 नवंबर निर्धारित की है।

क्या शहीदों के खून से गद्दारी करने वाले कांग्रेसियों की सजा सिर्फ कुर्सी से हटा देना ही है ?

मुंबई में कोलाबा बेहद महंगा इलाका है। यहीं मुकेश अंबानी के चर्चित आलीशान घर के सामने ही आदर्श हाउसिंग सोसायटी ने 31 मंजिला अपार्टमेंट बनाया है। यह अपार्टमेंट सेना की जमीन पर बना है और यहां करगिल के शहीदों की विधवाओं के लिए 6 मंजिला इमारत में फ्लैट बनने थे। लेकिन फौजियों, नेताओं और अफसरों की मिलीभगत से यह इमारत 31 मंजिला बन गई और इसके फ्लैट अपने लोगों में मिट्टी के मोल बांट दिए गए।

करीब 8.5 करोड़ रुपये की कीमत वाला फ्लैट 85 लाख रुपये में अलॉट कर दिया गया। फायदा उठानेवालों में दो पूर्व आर्मी चीफ एन. सी. विज और दीपक कपूर, कई जनरल, एडमिरल, राजनेता और बड़े अफसर शामिल हैं।

साउथ मुंबई के पॉश एरिया में बनी आदर्श सोसायटी मुंबई में रीयल एस्टेट में घुसे बेइंतहा भ्रष्टाचार का उदाहरण है। अब तक मिली जानकारियों के आधार पर कहा जा सकता है कि पॉश एरिया में सस्ते मकान के लालच में नेताओं, नौकरशाहों और सरकारी विभागों ने आंख मूंदकर भ्रष्टाचार किया। लेकिन अब जबकि इस साजिश का पर्दाफाश हो रहा है, मुख्यमंत्री को इस्तीफे की पेशकश करनी पड़ गई है।

आर्मी के रिटायर्ड ऑफिसर्स, महाराष्ट्र सरकार के अधिकारियों और राजनीतिज्ञों ने मिलकर कफ परेड में 31 मंजिल का जो टॉवर बनाया है, मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण के लिए वह आग की भट्टी बन गया है। यदि यह बात उजागर नहीं होती कि निर्माण और जमीन अलॉटमेंट में बेधड़क नियमों का उल्लंघन हुआ और उस दौरान राजस्व मंत्री अशोक चव्हाण थे, तो शायद मामले ने इतना तूल नहीं पकड़ा होता। चव्हाण विरोधियों के लिए इस टावर से उनका संबंध जोड़ना इसीलिए आसान हो गया कि उनके तीन रिश्तेदारों के तीन फ्लैट आदर्श में है।

जिस जगह पर यह टावर बना है वहां मूलत: कारगिल के वीरों और विधवाओं के लिए 6 मंजिली इमारत बनने वाली थी। बाद में सेना के 40 अधिकारियों ने इसे आर्मी का प्लॉट बताकर वहां सोसायटी बनाने का प्रस्ताव महाराष्ट्र सरकार को भेजा। धांधली वहीं से शुरू हुई। वह प्लॉट राज्य सरकार का होने का राज पता चलते ही धांधली के चक्र तेजी से घूमने लगे। कफ परेड में फ्लैट पाने के लिए आपाधापी मच गई। सोसायटी में सेना के अधिकारियों के अलावा निजी सदस्यों को शामिल करने के लिए खिटपिट शुरू की गई।

पहले नगर विकास को मैनेज करके इमारत के पास से गुजरने वाली सड़क छोटी बनाकर एक प्लॉट निकाला गया। उसे मूल जमीन में मिलाया गया, पर फिर भी एफएसआई कम पड़ गया तो बेस्ट की जगह का एफएसआई भी आदर्श के लिए इस्तेमाल करने की अनुमति प्राप्त की गई। इस काम में जिस जिसकी मदद की जरूरत थी, उसे एक फ्लैट दिया गया। सोसायटी के सदस्यों की पात्रता की औपचारिकता पूरी करने के लिए को-ऑपरेटिव विभाग से मिलीभगत की गई।

तो क्या शहीदों के खून से गद्दारी करने वाले कांग्रेसियों की सजा सिर्फ कुर्सी से हटा देना ही है ?

नरेन्द्र मोदी ने किताब पढ़ बनाया रिकॉर्ड

लोगों को पढ़ने हेतु प्रेरित करने के लिए ‘वांचे गुजरात’ नाम-नारे के साथ शनिवार को गुजरात ने अनोखे महाअभियान का श्रीगणोश किया। मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गांधीनगर के एक पुस्तकालय में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी लिखित ‘हिंद स्वराज’ पुस्तक पढ़ने की शुरूआत कर महाअभियान का सांकेतिक शुभारंभ किया। साथ ही एक घंटे के अध्ययन के प्रमुख बिंदुओं को अपनी डायरी में दर्ज किया। वांचे गुजरात महा-अभियान गुजरात स्वर्ण जयंती वर्ष का हिस्सा है।

मुख्यमंत्री ने महाअभियान को गुजरात स्वर्णजयंती वर्ष का अनोखा आयोजन करार देते हुए पढ़ने की प्रवृत्ति अपनाने की अपील की। महा-अभियान में मुख्यमंत्री के अलावा राज्य मंत्रिपरिषद के सदस्य, सांसद, विधायक , स्थानीय निकायों के सदस्य, शिक्षक तथा स्कूली विद्यार्थी आदि 60 लाख से अधिक ने हिस्सा लिया। संख्या और एक ही समय सामूहिक अध्ययन के लिहाज से यह एक रिकॉर्ड है। हिंद स्वराज पुस्तक का अध्ययन करने के बाद मुख्यमंत्री ने कहा कि अध्ययन की महिमा भारत में सदियों से सर्वस्वीकृत है।

कंप्यूटरयुग में नई पीढ़ी में पुस्तक अध्ययन की प्रवृति विकसित करना समय की मांग है। इससे युवा पीढ़ी के व्यक्तित्व विकास में नया आयाम जोड़ेगी। बहरहाल शनिवार सुबह नौ से दस बजे के दौरान राज्यभर में जगह-जगह सामूहिक अध्ययन की व्यवस्था की गई थी। सामूहिक अध्ययन का इंतजाम किया। ताकि लोगों में आयोजन के प्रति जिज्ञासा पैदा हो जिससे उन तक अभियान का संदेश भी पहुंचे।

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers