ताज़ा समाचार (Fresh News)

गरीब, शोषित की सेवा भगवान के समान की जाए - गडकरी

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी ने कहा कि उनकी पार्टी के लिए देश रहने वाले लाखों गरीब, शोषित और दलित, भगवान के समान हैं और भाजपा सामाजिक और आर्थिक स्थिति के सुधार के लिए राजनीति को एक उपकरण मानती है।

गडकरी शुक्रवार को मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के साथ उत्तराखंड सरकार द्वारा राज्य में अटल खाद्यान्न योजना का लोकार्पण करने के बाद उपस्थित जन समूह को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि भाजपा के महान चिंतक दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर शुरू की गई इस योजना से राज्य के करीब 30 लाख लोगों को लाभ मिलेगा। ऐसी योजनाएँ देश के अन्य हिस्सों में भी निरंतर चलनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि केन्द्रीय कृषि मंत्री का कहना है कि देश में प्रतिवर्ष 58 हजार करोड़ रूपये का अनाज सड़ जाता है। यदि ऐसा है तो अनाज को सड़ाने की बजाए उसे क्यों नहीं उन गरीबों, शोषितों और जरूरतमंद लोगों में बाँट दिया जाता है जिन्हें इसकी सबसे अधिक जरूरत है।

गडकरी ने निशंक सरकार की पीठ थपथपाते हुए कहा कि गरीबों के कल्याण के लिए इस तरह की अन्य योजनाओं की भी शुरुआत की जानी चाहिए क्योंकि दीनदयाल उपाध्याय का स्पष्ट मानना था कि शोषित, दलित, पीड़ित, आर्थिक रूप से जरूरतमंद व्यक्ति भगवान का स्वरूप होता है और उसकी सेवा की जानी चाहिए।

संघ का प्रधानमंत्री के नाम खुला पत्र

मालेगाँव, अजमेर और हैदाराबाद विस्फोट मामले में सरकारी जाँच को दुष्प्रचार की साजिश का हिस्सा बताते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने इन मामलों की निष्पक्ष एवं पारदर्शी ढंग से जाँच करने के लिए एक स्वतंत्र आयोग गठित करने के वास्ते प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को पत्र लिखा है और मुलाकात के लिए समय माँगा है।

संघ की ओर से प्रधानमंत्री को यह पत्र कल सरकार्यवाह भैयाजी जोशी ने लिखा जिसमें कर्नल पुरोहित और दयानंद पाण्डेय के षड्यंत्र को महज आपराधिक मामला नहीं बल्कि राजनीतिक हथकंडा बताते हुए महाराष्ट्र एटीएस पर सरसंघचालक मोहन भागवत और वरिष्ठ प्रचारक इंद्रेश कुमार की हत्या की साजिश रचे जाने से जुड़े मामले को दबाने का आरोप लगाया गया।

पत्र की जानकारी देते हुए अखिल भारतीय प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने यहाँ कहा, ‘संघ का स्पष्ट मानना है कि कर्नल पुरोहित की भूमिका राजनीतिक थी और वह अपने विवेक के आधार पर कुछ नहीं कर रहा था। उसकी कोशिश संघ और सहयोगी संगठनों में दरार पैदा करने की थी। उसने सरसंघचालक भागवत और इंद्रेश कुमार को मारने की साजिश रची जिसका पता महाराष्ट्र एटीएस के आरोपपत्र से चलता है।’

उन्होंने कहा कि इसके बावजूद जाँच एजेंसियाँ ऐसे लोगों से संघ का रिश्ता जोड़ रही हैं और हत्या की साजिश के पहलू पर जाँच कार्य आगे नहीं बढ़ा रही हैं।

पत्र में कहा गया है कि, ‘पूरा षड्यंत्र वास्तव में एक राजनीतिक हथकंडा है, इसलिए महज आपराधिक छानबीन से कुछ पता नहीं चल सकता है। इस बात का पता लगाए जाने की जरूरत है कि इसके पीछे किस प्रकार का राजनीतिक एजेंडा है और इस साजिश के पीछे कौन लोग हैं।
इसकी जाँच के लिए एक निष्पक्ष स्वतंत्र आयोग गठित किए जाने की जरूरत है।’

यह पूछे जाने पर कि जब संघ को जाँच एजेंसियों के रवैये पर संदेह था तो इस विषय को पहले क्यों नहीं उठाया गया, वैद्य ने कहा, ‘हम पहले ही स्पष्ट कर चुके थे कि जाँच प्रक्रिया में एजेंसियों को पूरा सहयोग देंगे और हमारी अपेक्षा थी कि जांच कार्य पारदर्शितापूर्ण ढंग से होगा। लेकिन इस दौरान हमने महसूस किया कि जाँच एजेंसियाँ जानबूझकर कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित कर रही हैं और अमर्यादित व्यवहार एवं चरित्रहनन कर रही हैं।’

उन्होंने कहा कि जाँच अब आपराधिक मामले की जाँच नहीं रह गई है बल्कि संघ के विरूद्ध राजनीतिक एजेंडा और दुष्प्रचार का हथियार बन गई है। कांग्रेस के एक महासचिव भी संघ के विरूद्ध विद्वेषपूर्ण अभियान चलाये हुए हैं जिससे राजनीतिक एजेंडे की पुष्टि होती है।

वैद्य ने कहा कि महाराष्ट्र एटीएस ने संघ के नेताओं को जान से मारने की साजिश पर जाँच कार्य को आगे नहीं बढ़ाया बल्कि जांच प्रक्रिया को जानबूझकर विकृत करने का प्रयास किया जा रहा है। अगर इस पहलू की निष्पक्ष जाँच सामने आए तो संघ के विरूद्ध चलाए गए अभियान की हवा निकल आएगी।

जोशी ने अपने पत्र में लिखा है कि संघ आमतौर पर राजनीतिक सत्ता से कोई संवाद नहीं करता लेकिन मामला संवेदनशील है, अत: इसकी गंभीरता को देखते हुए प्रत्यक्ष मिलकर इस विषय पर संवाद करने का अवसर प्रदान करें।

यासीन मलिक ने तिरंगा लेने से किया इनकार, भाजपा ने जूते मारे

जम्मू-कश्मीर के देशद्रोही और अलगाववादी नेता यासीन मलिक ने शुक्रवार शाम तिरंगा लेने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि यह झंडा उनके देश का नहीं है। मलिक शुक्रवार शाम ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर पहुंचे थे, जहां खादिम और कांग्रेस के अभाव अभियोग प्रकोष्ठ के जिला महासचिव सैयद नातिक ने उन्हें फूलों के साथ तिरंगा भी भेंट करना चाहा था।

मलिक के जवाब से वहां मौजूद खादिम सकते में आ गए। इससे पहले दोपहर में भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने मलिक के खिलाफ प्रदर्शन किया और होटल में उनकी ओर जूते-चप्पल उछाले। कार्यकर्ताओं ने पुतला फूंक कर प्रदर्शन भी किया। इस घटना से प्रशासन में खलबली मच गई। पुलिस ने होटल की सुरक्षा बढ़ा दी है। जम्मू-कश्मीर लिब्रेशन फ्रंट के एक धड़े के अध्यक्ष यासीन मलिक अपनी पाकिस्तानी बेगम मुशाला के साथ बुधवार से अजमेर में हैं।

भाजयुमो कार्यकर्ता नया बाजार से जुलूस के रूप में धानमंडी स्थित होटल रॉयल पैलेस पहुंचे। इसी होटल में यासीन अपने पत्नी के साथ रुके हुए हैं। कार्यकर्ताओं ने होटल में घुसने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने सुरक्षा घेरा कड़ा कर दिया। इस बीच बॉलकनी में आए यासीन को देखकर कार्यकर्ताओं ने यासीन मलिक वापस जाओ, अलगाववादी नहीं चलेगा-नहीं चलेगा, नारे लगाए और उनकी ओर चप्पल-जूते उछाले। पुलिस ने भाजपा नेताओं को समझाइश के बाद होटल के बाहर से हटा दिया।

लड़की को पैदा होते ही मार देना चाहिए - सलमा अंसारी, पत्नी उपराष्ट्रपति


उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की पत्नी सलमा अंसारी के एक बयान से हंगामा हो गया है। एक कार्यक्रम में सलमा अंसारी ने कहा था कि लड़की को पैदा होते ही जल्द से जल्द मार देना चाहिए। महिला संगठनों ने इस बयान पर आपत्ति जताई है।

समाज सुरक्षा करने में नाकामः
उन्होंने कहा कि हमारा समाज लड़कियों की सुरक्षा करने में नाकाम रहा है। इसी नाकामी के कारण लड़कियों के माता-पिता को उन्हें जहर देकर मार देना चाहिए। केवल महिला आरक्षण से ही महिलाओं का भला नहीं होगा।

शिक्षा का प्रसार करने की आवश्यकता
सरकार को कई नई स्कीम के साथ आगे आना चाहिए, जिसका उनको फायदा मिल सके। इसके साथ ही जमीनी स्तर पर महिलाओं में जागरूकता और शिक्षा का प्रसार करने की आवश्यकता है। सिर्फ कानून बनने से लड़कियों का भला होने वाला नहीं है।

कर्नाटक राज्यसभा के उपसभापति रहमान खान के खिलाफ धोखाधडी का केस

कर्नाटक सरकार ने गुरुवार देर शाम कहा कि उसने राज्यसभा के उपसभापति के रहमान खान के खिलाफ करीब 100 करोड़ रुपए की वित्तीय अनियमितता का मामला दर्ज करवाया है। यह अनियमितता बेंगलुरु स्थित अमानाथ कोऑपरेटिव बैंक में 1989 से 2002 के बीच हुई जब खान इसके अध्यक्ष थे।

सहकारिता
मंत्री लक्ष्मण सावदी ने संवाददाताओं से कहा कि खान और अन्य के खिलाफ राज्य सहकारिता विभाग ने मामला दर्ज करवाया है। सावदी ने कहा कि विभाग द्वारा करवाई गई एक जांच में खान के अध्यक्ष कार्यकाल में हुई इस अनियमितता का पता चला है। इस कारण बैंक को 102.02 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था।

उन्होंने
कहा कि बैंक के अन्य पूर्व अध्यक्षों जिया-उल-शरीफ और ए. ए. कातिब के खिलाफ भी मामला दर्ज करवाया गया है। सावदी ने कहा कि शिकायत के बारे में केंद्र सरकार को सूचित किया जाएगा। इस बैंक की स्थापना वर्ष 1977 में की गई थी, जिसका उद्देश्य गरीब मुस्लिम समुदाय की सहायता करना था।

केवल
तीन लाख रुपये की पूंजी से शुरू किए गए इस बैंक में वर्तमान में 440 करोड़ रुपये जमा हैं। बैंक के पास 505 करोड़ रुपए की कार्यशील पूंजी है।

संघ के नर्मदा नदी पर सामाजिक कुंभ में कांग्रेस को धर्मातरण की आशंका

मध्य प्रदेश के मंडला जिले में नर्मदा नदी के तट पर गुरुवार से शुरू हुए तीन दिवसीय नर्मदा सामाजिक कुंभ पर कांग्रेस और ईसाई समुदाय को आपत्ति हो गई है आयोजक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तक इसे सामाजिक समरसता का प्रतीक करार दिया है, वहीं कांग्रेस ईसाई संगठन ने इस आयोजन के जरिए धर्मातरण की आशंका जताई है।

नर्मदा जयंती पर शुरू हुए इस सामाजिक कुंभ के मंच पर संघ के पदाधिकारियों से लेकर भाजपा के नेताओं और साधु-संत का जमावड़ा था। धार्मिक उपदेश के बीच तमाम वक्ताओं ने देशभक्ति की परिभाषा बताई और धर्म का पाठ पढ़ाया।

इस मौके पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि इस कुंभ से जो अमृत निकलेगा, वह सामाजिक समरसता को और प्रगाढ़ करेगा। नर्मदा नदी दुनिया की एक मात्र ऐसी नदी है जिसकी लोग परिक्रमा करते हैं, क्योंकि यह लोगों की आस्था का केंद्र है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुरेश पचौरी ने मंडला के सामाजिक कुंभ को धर्म स्वतंत्रता कानून के खिलाफ बताते हुए केंद्रीय गृह मंत्री पी. चिदम्बरम और राज्यपाल रामेश्वर ठाकुर को पत्र भी लिखा है। उन्होंने कहा कि इस कुंभ के जरिए अल्पसंख्यकों के खिलाफ घृणा फैलाने का प्रयास किया जा रहा है।

ईसाई समाज के प्रवक्ता आनंद मुटुंग ने इस आयोजन के जरिए धर्मातरण की आशंका जताई है। उनका कहना है कि इसके लिए कुछ लोगों पर दबाव भी डाला जा रहा है।

दुष्कर्म, अपहरण और हत्या पर मौत की सजा मिले - सुषमा स्वराज

लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने केरल में एक लड़की के साथ दुष्कर्म और हत्या की घटना पर दुख जताया है तथा ऐसे मामलों को दुर्लभतम अपराध की श्रेणी में लाने तथा अपराधियों को मौत की सजा दिए जाने की माग की है।

वरिष्ठ भाजपा नेता सुषमा स्वराज ने माइक्रो ब्लागिंग वेबसाइट ट्विटर पर लिखा कि केरल में एक लड़की को ट्रेन से बाहर ढकेलने तथा उसके साथ दुष्कर्म के बाद रेल पटरी पर फेंक देने की घटना चौंकाने वाली है। सुषमा ने कहा कि दुष्कर्म और हत्या की घटनाएं प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं।

इस संबंध में मेरा मानना है कि कानून में सशोधन किया जाना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया कि सुप्रीम कोर्ट केवल उन्हीं मामलों में मौत की सजा देता है जो दुर्लभतम होते हैं। इसलिए कानून को दुष्कर्म और हत्या, अपहरण और हत्या की घटना को दुर्लभतम घोषित करना चाहिए और मौत की सजा को अनिवार्य बनाया जाए। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि दुष्कर्म और हत्या, अपहरण और हत्या के दोषियों को सिर्फ मौत की सजा दी जाए।

केरल का मामला मौत की सजा दिए जाने योग्य है। उन्होंने कहा कि दिल्ली अपराध की राजधानी है लेकिन यह देश के सबसे ज्यादा शिक्षित राज्य केरल में हुआ।

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद केरल में

भारत की सबसे बड़ी मस्जिद केरल में कोझीकोड के पास एकइस्लामिक सेंटर ऑफ लर्निंगकेनॉलेज सिटीपरिसर में बनाई जाएगी, जिसमें एक साथ 25,000 लोग एकत्र हो सकेंगे।

यह 12 एकड़ क्षेत्र में बनाई जाएगी।

यह स्थान कोझीकोड से करीब 10 किलोमीटर दूर कारंतुर में स्थित है।

शैक्षणिक एवं सांस्कृतिक संगठन जामिया मार्काजु ससाकुफाती ससुन्नीया के सूत्रों ने बताया कि 40 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली यह मस्जिद भारत का अहम इस्लामी केंद्र होगा।

उन्होंने बताया कि पांच महीनों में इसका निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा और इसे दो साल से भी कम वक्त में पूरा कर लिया जाएगा।

सूत्रों ने बताया है कि मस्जिद के डिजाइनर एवं त्रिसूर के वास्तुकार रियाज मुहम्मद के मुताबिक यह मुगल वास्तुकला शैली पर आधारित होगी।

उन्होंने बताया, ‘‘इसमें हरित इमारत की अवधारणा का पूरी तरह से पालन किया जाएगा ताकि निर्मित इलाके के चारों ओर हरियाली छाई हो।’’ सूत्रों ने बताया, ‘‘यह इमारत आठ एकड़ के क्षेत्र में फैली होगी और यह चार एकड़ के हरित क्षेत्र और सुंदर बगीचों से घिरी होगी। एक बहुत बड़े नमाज गृह के अलावा परिसर में सेमिनार के लिये एक सभागार और एक बड़ा पुस्तकालय भी होगा।

प्रतिभा पाटिल पर टिप्पणी करने वाले मंत्री से इस्तीफा लिया


राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल पर टिप्पणी करना राजस्थान सरकार के एक मंत्री को बहुत महंगा पड़ा है। मामले के तूल पकड़ने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने पंचायती राज और ग्रामीण विकास मंत्री अमीन खां से इस्तीफा मांग लिया है। मंत्री ने मुख्यमंत्री को इस्तीफा भेज दिया जिसे स्वीकार कर लिया गया है ।

सूत्रों के अनुसार, मुख्यमंत्री ने अमीन को टिप्पणी को लेकर इस्तीफा देने को कहा है। दिल्ली में गहलोत ने इस मसले पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल और राजस्थान में पार्टी मामलों के प्रभारी व केंद्रीय मंत्री मुकुल वासनिक से चर्चा की। समझा जाता है कि मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपति से भी फोन पर बात कर अपने मंत्री की टिप्पणी पर खेद जताया है।

गौरतलब है कि पाली जिले में मंगलवार को जिला कांग्रेस कमेटी की बैठक में अमीन खां ने कहा था कि प्रतिभा पाटिल ने कभी पद की मांग नहीं की, लेकिन पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के प्रति वफादारी और उनका किचन संभालने के कारण उन्हें राष्ट्रपति पद तक पहुंचने का अवसर मिला। मंत्री की इस टिप्पणी के बाद मामला गरमा गया था। पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता वसुंधरा राजे ने खां पर कार्रवाई की मांग करते हुए कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राजस्थान के मंत्री देश की राष्ट्रपति के खिलाफ ऐसी बात कह रहे हैं।

श्री राजपूत कर्णी सेना और राजपूत सभा ने भी मंत्री की टिप्पणी के विरोध में धरना देते हुए उन्हें कैबिनेट से हटाने की मांग की थी। दूसरी ओर, अमीन खां ने विवाद पर सफाई देते हुए कहा था ‘मैंने कार्यकर्ताओं को केवल वफादारी का उदाहरण दिया था। राष्ट्रपति के खिलाफ टिप्पणी की मेरी मंशा नहीं थी। मैंने सिर्फ यह कहा था कि प्रतिभा पाटिल समर्पित और साधारण कार्यकर्ता थीं। मैंने कार्यकर्ताओं को उनके नेता और पार्टी के प्रति वफादार रहने की नसीहत दी थी।

क्या है आयकर के नए नियम और कितनी मिलेगी छूट


अब एचयूएफ के नाम खोले गए पीपीएफ खातों को एक्सटेंशन नहीं मिलेगा। 13 मई 2005 से एचयूएफ के नए खाते खोलने की मनाही हो गई थी और अब एचयूएफ के वैसे खाते, जिनकी 15 साल की मियाद पूरी हो चुकी है उन्हें कोई एक्सटेंशन नहीं मिलेगा। इसके अलावा 15 साल पूरे होने के बाद एक्सटेंशन पर चल रहे खातों का एक्सटेंशन 31 मार्च 2011 से समाप्त हो जाएगा।

खातों की जमा रकम मय ब्याज और कर्ज (अगर कोई हो) के समायोजन के बाद कर्ता के हवाले कर दी जाएगी। इससे हतोत्साहित न हों। पीपीएफ के अलावा एचयूएफ को आयकर में लाभ के कई रास्ते हैं। आयकर अधिनियम की धारा 2(31) एचयूएफ यानी हिंदू अनडिवाइडेड फैमिली (हिंदू अविभक्त परिवार) को विशेष दर्जा देता है। इसके तहत एचयूएफ का कर्ता एचयूएफ की कमाई के लिए न सिर्फ अलग रिटर्न भर सकता है, बल्कि वह नियमानुसार उसपर छूट भी ले सकता है।

किसे कहते हैं एचयूएफ

एचयूएफ की सबसे छोटी इकाई पति-पत्नी हो सकते हैं। यानी इसके लिए परंपरागत अर्थों में संयुक्त परिवार का होना जरूरी नहीं है। शादी के साथ ही एचयूएफ का गठन हो जाता है और इसलिए एचयूएफ के पैन कार्ड बनवाने के फॉर्म में एचयूएफ के गठन की तारीख की जगह शादी की तारीख लिखी जाती है। बड़ा संयुक्त परिवार भी एचयूएफ हो सकता है।

अविवाहित बेटी होगी पिता के साथ

एकल परिवार में दंपति के बच्चे भी इसके सदस्य होते हैं। परिवार में अगर बेटी हो तो शादी के बाद पिता के एचयूएफ से उसकी सदस्यता समाप्त हो जाती है और वह पति के एचयूएफ में शामिल हो जाती है। ऐसा होने के लिए किसी प्रक्रिया की कोई आवश्यकता नहीं है, बल्कि यह कानूनन ऐसा हो जाता है।

कौन हो सकता है कर्ता

आयकर अधिनियम के अनुसार परिवार में पिता या वरिष्ठ पुरुष सदस्य एचयूएफ का कर्ता होगा। कर्ता की भूमिका परिवार के मैनेजर की होती है और एचयूएफ के सारे सदस्य इसके पार्टनर की तरह होते हैं। परिवार की महिला सदस्य कर्ता नहीं हो सकती।

कर्ता का साथ रहना कितना जरूरी

कर्ता के लिए परिवार के साथ एक ही छत के नीचे रहना बिल्कुल जरूरी नहीं है। जरूरी यह है कि वह परिवार के सारे मामलों की देखभाल करे। अगर कोई व्यक्ति विदेश में भी रहता है और परिवार को भारत में मैनेज करता है तो वह कर्ता की भूमिका में ठीक होगा।

एचयूएफ का कोई अपवाद

केरल में एचयूएफ की मान्यता नहीं है। केरल ज्वाइंट फैमिली सिस्टम (अबॉलिशन) एक्ट 1975 के तहत 1 दिसंबर 1976 से केरल में एचयूएफ की मान्यता खत्म हो गई है।

टिप्स

भले ही एचयूएफ के दायरे से पीपीएफ बाहर कर दिया गया है, अभी भी एचयूएफ के तहत आयकर की बहुत सी छूटें उपलब्ध हैं। अपने फाइनेंशियल प्लानर या सीए से बात कर एचयूएफ का लाभ जरूर लेना चाहिए।

बाबा रामदेव भी पाखंड फैला रहे हैं - कांग्रेस

कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता मोहन प्रकाश ने कहा कि काला धन प्रकरण में भाजपा बाहरी आर्थिक ताकतों के हाथों में खेल रही है। वह इस जांच को सही मुकाम पर नहीं पहुंचने देना चाहती। इस मामले में बाबा रामदेव भी पाखंड फैला रहे हैं। वे अपने आप को हाईलाइट करने के लिए अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं।

मोहन प्रकाश यहां एक निजी कार्यक्रम में बोल रहे थे। आए मोहन प्रकाश ने कहा कि विदेशों में जमा काले धन को उजागर कराने तथा दोषियों को दंड दिलाने के लिए कांग्रेस सरकार ने ही पहल की। भाजपा ने तो इस मामले में कभी कोशिश नहीं की। वह तो इस जांच प्रक्रिया को बाधित करना चाहती है। उन्होंने कहा, कुछ नाम सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत कर दिए हैं। चूंकि यह दो देशों की कराधान संधि का मामला है। इस कारण उन्हें उजागर नहीं किया जा सकता। भाजपा यह सब जानते हुए भी बयानबाजी कर रही है।

भाजपा नेता नहीं चाहते कि सच सामने आए। उन्होंने भाजपा पर बाहरी आर्थिक ताकतों के हाथों में खेलने का आरोप लगाया, किंतु बाहरी आर्थिक ताकतों का खुलासा करने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि समय आने पर सब सामने आ जाएगा। उन्होंने एस बैंड स्पेक्ट्रम मामले में कहा कि सीएजी की रिपोर्ट अभी प्राथमिक है। सरकार पहले ही जांच में जुटी है।

मायावती ने डीएसपी से कराई जूतियां साफ

आपने मुहावरा सुना होगा मियां की जूती मियां के सिर. लेकिन जब चापलूसी अपनी हदें पार कर जाती है तब इस मुहावरे में बदलाव आता है और इंसान किसी की भी जूती अपने सिर-माथे करने को तैयार हो जाता है.

खबर औरैया की है, जहां उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री मायावती हेलीकॉप्टर से उतरीं तो उनकी जूती पर धूल की परत चढ़ गई. फिर क्या था उनकी सुरक्षा में तैनात अधिकारी ने जेब से रुमाल निकाला और मैडम की जूतियों की सफाई कर दी.मैडम को भी कोई फर्क नहीं पड़ा.

वे अपनी जूतियां साफ कराती रहीं. पदम सिंह डीएसपी हैं और 1994 से मायावती सी सुरक्षा में तैनात हैं. खास बात ये कि पदम सिंह को उत्कृष्ट सेवा मेडल भी मिला हुआ है. ये अलग बात है कि उस सेवा मेडल से इस सेवा-भाव का कोई ताल-मेल नहीं दिखाई पड़ता.

कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष पद पर एक परिवार का एकाधिकार - आडवाणी

सोनिया गाँधी पर परोक्ष हमला करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने रविवार को कहा कि स्वतंत्रता संग्राम के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष सिर्फ एक बार के लिए चुने जाते थे, लेकिन अब यह पदपारिवारिक एकाधिकारवाला रह गया है।

आडवाणी ने ब्लॉग पर अपनी नवीनतम टिप्पणी में लिखा है कि वे दिन थे जब प्रत्येक वर्ष कांग्रेस का नया अध्यक्ष होता था। तब से चीजें कितनी बदली हैं। अब लगता है कि पार्टी अध्यक्ष पद पर एक परिवार का एकाधिकार रह गया है और वह भी आजीवन। उन्होंने कहा कि महात्मा गाँधी का भी कांग्रेस पर काफी प्रभाव रहा, लेकिन वह भी सिर्फ एक बार 1924 में अध्यक्ष बने थे।

सोनिया गाँधी पिछले वर्ष चौथी बार निर्विरोध पार्टी अध्यक्ष बनी थीं। अध्यक्ष पद की अवधि को भी तीन वर्ष से बढ़ाकर पाँच वर्ष कर दिया गया।

अपने ब्लॉग पर आडवाणी ने 1980 में जनता पार्टी के चुनाव हारने के बाद उसकी ‘बुरी’ गत से वर्तमान संप्रग सरकार की तुलना की है, जो भ्रष्टाचार के कई आरोपों का सामना कर रही है। उन्होंने कहा कि अपने लेखों में वे जनता पार्टी को ‘आत्मघाती प्रवृत्ति’ से घिरे होने का जिक्र करते थे और इस शब्द का प्रयोग आज के अखबार वर्तमान सरकार के लिए कर रहे हैं।

हरियाणा में कांग्रेस के सैकड़ों समर्थक इनेलो में शामिल

इनेलो के महासचिव अजय सिंह चौटाला ने आज कांग्रेस सरकारों पर देश को लूटने का आरोप लगाते हुए कहा कि मनमोहन सिंह की मौजूदा सरकार आजादी के बाद के 64 वषरें की सबसे भ्रष्ट सरकार है।

चौटाला आज यहां मिनाक्षी गार्डन में एक सभा को संबोधित कर रहे थे। सभा का आयोजन कांग्रेस के टिकट पर नगर परिषद का चुनाव लड़ने वाले विजय कुमार भूसी ने किया था, जो अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ आज कांग्रेस छोड़कर इनेलो में शामिल हो गए।

इस मौके पर चौटाला ने कहा कि देश इस समय गंभीर परिस्थितियों से गुजर रहा है और कांग्रेस की सरकार पूंजीपतियों के साथ मिलीभगत करके किसानों को उजाड़ रही है।

वरुण गांधी का विवाह कांची शंकराचार्य द्वारा 6 मार्च को वाराणसी मे

बीजेपी सांसद वरुण गांधी 6 मार्च को बंगाली ब्राम्हण यामिनी रायचौधरी के साथ शादी रचाएंगे। शादी वाराणसी के कांची मठ में होगी। विवाह कांची शंकराचार्य स्वामी जयेंद्र सरस्वती करवाएंगे। कांची मठ के सात पुजारी पहले दिल्ली आएंगे और यहां विवाह के पहले की रस्में अदा करने के बाद, सभी वाराणसी जाएंगे।

कांची मठ को दुल्हन यामिनी रायचौधरी की मां ने पसंद किया है, जो वहां लंबे समय से जाती रही हैं। उन्होंने अपनी बेटी की शादी के लिए शॉपिंग भी वाराणसी से ही की है। मेनका गांधी ने वाराणसी के मेयर कौशलेंद्र सिंह को शादी की पूरी व्यवस्था देखने को कहा है। करीब सौ साल के अंतराल के बाद गांधी परिवार का कोई सदस्य किसी ब्राह्मण से विवाह रचा रहा है।

इसके पहले ऐसा 1916 में हुआ था, जब देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने कमला कौल से शादी की थी। कमला कश्मीरी ब्राह्मण थीं। वरुण की दादी इंदिरा गांधी, पिता संजय, पिता के बड़े भाई राजीव, उनकी बेटी प्रियंका, सभी ने गैर-ब्राह्मण समाज में विवाह किया है। यामिनी फिल्म क्रिटिक अरुणा वासुदेव की बेटी हैं। यामिनी खुद दिल्ली में ग्राफिक्स डिजाइनिंग का काम करती हैं। उन्होंने सेंट स्टीफंस कॉलेज से ग्रेजुएशन करने के बाद पेरिस की सोरबोन यूनिवर्सिटी से फाइन आर्ट्स का कोर्स किया।

इंदिरा गांधी द्वारा मेनका को दी साड़ी पहनेंगीं यामिनी

विवाह के अवसर पर यामिनी स्वर्गीय इंदिरा गांधी द्वारा मेनका गांधी को दी गई साड़ी पहनेंगीं। उन्होंने यह साड़ी मेनका को पुत्र संजय से शादी के समय दी थी। गुलाबी रंग की इस बनारसी साड़ी में सुनहरे रंग की बेलें बनी हुई हैं। शादी के बाद 8 मार्च को दिल्ली में रिसेप्शन है। इस दिन यामिनी 100 साल पुरानी नारंगी रंग की बनारसी साड़ी पहनेंगीं, जो स्वर्गीय कमला नेहरू ने इंदिरा गांधी को दी थी। वरुण शादी के दिन खुद सफेद धोती कुर्ते में रहेंगे। शादी के बाद पूरा परिवार एक विशेष विमान से दिल्ली लौट आएगा।

शादी में गांधी परिवार के काफी करीबी लोगों को ही बुलाया गया है। उत्तर प्रदेश के विभिन्न राजघरानों के कई सदस्य शादी में हिस्सा ले रहे हैं, इनमें काशी, बिजनौर, मनकपुर और अयोध्या के राजघराने शामिल है।

करीब 1200 लोग शामिल होंगे रिसेप्शन में

दिल्ली में होने वाले रिसेप्शन में करीब 1200 लोगों को आमंत्रित किया गया है। इस अवसर पर कश्मीर, बंगाल, अवध, राजस्थान, पंजाब, गुजरात, केरल, कर्नाटक आदि प्रदेशों का वेजीटेरियन भोजन मीनू में शामिल किया गया है। वरुण अप्रैल में दक्षिण इटली के अमालफी द्वीप पर हनीमून मनाने जाएंगे।

विदेश में काला धन जमा करने वाले लोगों के नाम नहीं बताऊंगा -मुखर्जी

वित्त मंत्री प्रणव मुखर्जी ने विदेश में काला धन जमा करने वाले लोगों के नाम का खुलासा करने से एक बार फिर आज इनकार किया। हालांकि उन्होंने यह जरूर बताया कि लीचटेंस्टाइन में एक बैंक में 18 खाताधारको में से 17 को नोटिस भेजे गए हैं।

यहां संवाददाताओं से बातचीत में मुखर्जी ने यह खुलासा ऐसे समय में किया जब कल मीडिया में ऐसे 15 व्यक्तियों और तीन फाउंडेशन समेत 18 नामों का ब्यौरा सामने आया जिन्होंने विदेशों में गुप्त रूप से खाते खोल रखे है।ं पिछले सप्ताह दिल्ली में एक संवाददाता सम्मेलन को याद करते हुए मुखर्जी ने कहा कि सरकार उन खाताधारकों के नाम का खुलासा करने की स्थिति में नहीं है जिनके गोपनीय खाते विदेश में हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘ इससे पहले संवाददाता सम्मेलन में मैंने कहा था कि जब मुकदमा चलेगा और मामला खुली अदालत में पहुंचेगा तब नामों का खुलासा किया जाएगा। लेकिन सरकार खुद बखुद नामों का खुलासा नहीं कर सकती। ये उनकी छिपाई गई आय हैं।

हमने नोटिस भेजे हैं और मुकदमा जल्द शुरू होगा।’’ मुखर्जी ने कहा, ‘‘ हमारे पास जो 18 नाम हैं, उनके खिलाफ मुकदमा की कार्यवाही शुरू हो चुकी है। 17 व्यक्तियों के मामले में नोटिस भेजे गए हैं। एक व्यक्ति मृत है, इसलिए उसके मामले में मुकदमा नहीं चल सकता।’’

पिछले सप्ताह वित्त मंत्री ने एक संवाददाता सम्मेलन में कानूनी रूपरेखा की गैर मौजूदगी का कारण बताते हुए विदेश में काला धन रखने वाले लोगों के नाम का खुलासा करने से इनकार किया था।

कांग्रेस महंगाई, भ्रष्टाचार और भुखमरी की पार्टी - गडकरी

भाजपा ने आज कहा कि महंगाई, भ्रष्टाचार और गरीबी का संबंध किसी जाति, धर्म या पंथ से नहीं होता और कांग्रेस जब जब सत्ता में आती है तो ये समस्याएं बढ़ती हैं।

राजधानी पटना में भाजपा कार्यकर्ता सम्मेलन में पार्टी अध्यक्ष नीतिन गडकरी ने कहा कि महंगाई, भ्रष्टाचार और भुखमरी का संबंध का कांग्रेस पार्टी से है।

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर हमला बोलते हुए गडकरी ने कहा कि कांग्रेस और लालू प्रसाद ने गरीबों को लूटा है।

उन्होंने कहा कि भाजपा भारत को आर्थिक संपन्न और युवाओं को रोजगार युक्त बनाना चाहती है और जाति, धर्म तथा पंथ के आधार पर भेदभाव नहीं करना चाहती।

भाजयुमो की हालिया राष्ट्रीय एकता यात्रा में तिरंगा फहराने से रोके जाने पर गडकरी ने कहा कि देश को तोड़ने वाली ताकतें दिल्ली में आकर राष्ट्रविरोधी बयान दे सकती हैं और श्रीनगर के लाल चौक पर राष्ट्रीय ध्वज जला सकती है लेकिन देशभक्तों को कश्मीर में तिरंगा फहराने की कोशिश करने पर पीटा जाता है।

उन्होंने कहा, ‘‘माओवादी पशुपति :नेपाल: से तिरुपति :भारत: तक अपना राज स्थापित करने का सपना देख रहे हैं लेकिन उन्हें रोकने की कोई ठोस कार्रवाई केंद्र सरकार नहीं कर रही है। कंेद्र आतंकवादियों का तुष्टिकरण कर रहा है।’’ उन्होंने कहा कि 21वीं सदी में विकास की राजनीति ही चलेगी। बिहार में नीतीश कुमार सरकार ने राज्य की जीडीपी दर को 11 फीसदी पहुंचाया है इससे प्रेरणा लेनी होगी।

और भी घोटालों का जल्द ही पर्दाफाश - हेमा मालिनी

भाजपा नेता और गुजरे जमाने कीड्रीमगर्लने दावा किया कि देश में कई और घोटालों का जल्द ही पर्दाफाश होगा।

उन्होंने यहां नादिया जिले में नवजागरण रथ यात्रा में कहा, ‘‘2जी स्पेक्ट्रम मामला, राष्ट्रमंडल खेल, आदर्श घोटाला उजागर हो चुका है और धीरे धीरे कई और घोटालों का पर्दाफाश होगा। इसलिये, आप चुप क्यों हैं? सिर्फ भाजपा एक भ्रष्टाचार मुक्त सरकार दे सकती है।’’ उन्होंने भाजपा शासित राज्यों की तुलना पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों से करते हुए कहा, ‘‘भाजपा शासित गुजरात, छत्तीसगढ़, बिहार जैसे राज्यों का विकास भ्रष्टाचार मुक्त सरकार के चलते हुआ है।’’

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी मस्जिद स्पेक्ट्रम घोटाला अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी सुप्रीम कोर्ट चुनाव पटना भोपाल कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद धर्म परिवर्तन मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए साध्वी प्रज्ञा सुब्रमण्यम स्वामी चीन दवा उद्योग बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई तमिलनाडु नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल मालेगांव विस्फोट विकीलीक्स अटल बिहारी वाजपेयी आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार असम गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers