ताज़ा समाचार (Fresh News)

Home » , , » सरकार ने 607 करोड़ रुपये के #FDI के दस प्रस्‍तावों को दी मंजूरी

सरकार ने 607 करोड़ रुपये के #FDI के दस प्रस्‍तावों को दी मंजूरी

विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड की 22 जनवरी 2016 को आयोजित 231वीं बैठक की सिफारिशों के आधार पर सरकार ने तकरीबन 607 करोड़ रुपये के प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के दस प्रस्‍तावों को मंजूरी दी है और 5856.51 करोड़ रुपये के एफडीआई वाले एक प्रस्‍ताव के लिए सीसीईए से अनुमोदन लेने की सिफारिश की है।

निम्‍नलिखित दस (10) प्रस्‍तावों को मंजूरी दी गई है:

क्रम
संख्‍या
मद संख्‍या
आवेदक का नाम
 प्रस्‍ताव का सार
क्षेत्र
एफडीआई(करोड़ रुपये में )
1
2
मेसर्स एट्रिया कन्वर्जेन्स टेक्‍नोलॉजीज प्राइवेट लिमिटेड
वर्तमान अप्रवासी शेयरधारकों से अपने शेयर अरगन (मॉरीशस) लिमिटेड और टीएएफवीसीआई इंवेस्‍टर्स लिमिटेड को हस्‍तांतरित करने के लिए मंजूरी मांगी गई है।
दूरसंचार
कुछ नहीं
2
4
 मेसर्स ग्‍लेनमार्क फार्मास्‍यूटिकल्‍स लिमिटेड
1,03,000 इक्विटी शेयरों का कर्मचारियों (विदेशी नागरिक) के लिए उनके पूंजी विकल्‍प के आधार पर आवंटन के लिए मंजूरी मांगी गई है, जो कंपनी की चुकता शेयर पूंजी का 0.03 प्रतिशत है।
फार्मा
3.34
3
6
मेसर्स यूरोनेट सर्विसेज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड बेंगलुरू
भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 20 अक्‍टूबर 2015 को जारी किए गए परिपत्र के अनुसार भारत बिल भुगतान प्रणाली परिचालन इकाई (बीबीपीओयू) के रूप में कार्य करने की मंजूरी मांगी गई है।
एनबीएफसी
कुछ नहीं
4
7
मेसर्स एमक्‍योर फार्मास्‍यूटिकल्‍स लिमिटेड
 चार अप्रवासी कर्मचारियों को 0.28 प्रतिशत तक के  अतिरिक्‍त ईएसओपी जारी करने की मंजूरी मांगी गई है।
फार्मा
57.4
5
8
मेसर्स एवीएच रिसोर्सेज इंडिया प्राइवेट लिमिटेड
मेसर्स एकरमैन्‍स एंड वैन हारेन एनवी, बेल्जियम के डब्‍ल्‍यूओएस द्वारा अपनी प्रबंधकीय सलाहकार और निवेश कंपनी को एक कोर निवेश कंपनी में बदलने के लिए मंजूरी मांगी गई है।
सीआईसी
कुछ नहीं
6
9
मेसर्स सिप्ला लिमिटेड
एफआईएल कैपिटल इनवेस्‍टमेंट्स (मॉरीशस) IIलिमिटेड से मेसर्स सिप्ला हेल्‍थ केयर लिमिटेड (सिप्ला लिमिटेड की एक डब्‍ल्‍यूओएस) में शुरुआती 128.96 करोड़ रुपये के निवेश और शुरुआती निवेश बंद होने के बाद एफआईएल कैपिटल इनवेस्‍टमेंट्स (मॉरीशस) IIलिमिटेड द्वारा एक पब्लिक लिमिटेड कंपनी (यानी सिप्ला हेल्‍थ केयर लिमिटेड) में 16.26 करोड़ रुपये तक के निवेश की मंजूरी मांगी गई।
फार्मा
145.22
7
15
मेसर्स अल्‍सटॉम
मैन्‍यूफैक्‍चरिंग इंडिया लिमिटेड
(i) मेसर्स अल्स्‍टोम
मैन्‍यूफैक्‍चरिंग इंडिया लिमिटेड ने 20-11-2015 से 20-07-2017 की अवधि के लिए पूंजी रोक कर अपनी निवेश कंपनी मेसर्स मधेपुरा एसपीवी के लिए निवेश करने की मंजूरी मांगी।

(ii)  इसके बाद एफआईपीवी मंजूरी की आश्‍यकता नहीं है और बाद की अवधि में मैसर्स अल्स्‍टोम मैन्‍यूफैक्‍चरिंग इंडिया लिमिटेड केवल एक निवेश कंपनी होगी तथा अपना कार्य शुरू कर देगी।
रेलवे इंफ्राट्रक्‍चर
400
8
17
मेसर्स कैप्रिकॉर्न
वेंचर्स लिमिटेड
मेसर्स कैप्रिकॉन
वेंचर्स लिमिटेड ने मैक्‍स इंडिया के शेयर धारकों के शेयर मैक्‍स इंडिया लिमिटेड में जारी करने की मंजूरी मांगी है जहां मैक्‍स इंडिया के प्रत्‍येक शेयर धारक कंपनी में 5:1 के अनुपात से अपना शेयर जारी करेंगे और मेसर्स कैप्रिकोर्न, मैक्‍स स्‍पेशियेलिटिज फिल्‍मस लिमिटेड की धारक कंपनी बन जाएगी।
स्‍वास्‍थ्‍य, चिकित्‍सीय अनुसंधान और संबंधित गतिविधियां
कुछ नहीं
9
24
डेन नेटवर्क्‍स  लिमिटेड
डेन नेटवर्क्‍स  लिमिटेड को दिनांक 14-8-2015 के अनुमोदन पत्र में एफआईआई/एनआरआई/एफपीआई की ओर  से 74 प्रतिशत तक कंपनी में निवेश की  मंजूरी प्रदान की गई थी। अब कंपनी ने शेयरों या क्‍यूआईआई/ एडीआर/ जीडीआर/ एफसीसीबी जैसी प्रतिभू‍तियों या अन्‍य अनुमति प्राप्‍त प्रतिभूतियों के जरिये  कंपनी में विदेशी निवेश की अनुमति मांगी है। अनुमोदित सीमा के भीतर निवेश की मंजूरी मांगी गई है।
दूरसंचार     
कुछ नहीं
10
26
मेसर्स सेलेस्टिस फार्मास्‍यूटिकल्‍स प्राइवेट लिमिटेड
कंपनी के 51 प्रतिशत शेयरों को  मौजूदा शेयरधारकों (निवासी भारतीय) के 32354 पूर्ण चुकता इक्विटी का  हस्‍तांतरण कर और कंपनी के 38053 नये शेयर खरीद कर मेसर्स अभाया इंवेस्‍टमेंट्स लिमिटेड, ब्रिटेन में निवेश करने  की मंजूरी मांगी गई है।
फार्मा
1.06
 प्रत्‍यक्ष विदेशी निवेश नीति 2015 के पैराग्राफ 5.2.2 के अंतर्गत  
मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों की समिति (सीसीईएद्वारा मंजूरी के लिए निम्‍नलिखित एक (01)प्रस्‍ताव की सिफारिश की गई है।

क्रम संख्‍या
मद संख्‍या
आवेदक का नाम 
प्रस्‍ताव का सार
क्षेत्र
एफडीआई (करोड़ रुपये में)






1
1
मेसर्स एटीसीएशिया पे‍सिफिकपीटीई. लिमिटेड
मेसर्स एटीसी एशिया पे‍सिफिक पीटीई. लिमिटेड (एटीसी सिंगापुर) द्वारा मौजूदा शेयरधारकों से शेयर हस्‍तांतरण के जरिये मेसर्स विओम नेटवर्क्‍स लिमिटेड की 51 प्रतिशत शेयरधारिता के अधिग्रहण की मंजूरी मांगी गई है।
दूरसंचार
(आईपी-I)
5856.51


0 comments :

Post a Comment

Join our WhatsApp Group

Join our WhatsApp Group
Join our WhatsApp Group

फेसबुक समूह:

फेसबुक पेज:

शीर्षक

भाजपा कांग्रेस मुस्लिम नरेन्द्र मोदी हिन्दू कश्मीर अन्तराष्ट्रीय खबरें पाकिस्तान मंदिर सोनिया गाँधी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ राहुल गाँधी मोदी सरकार अयोध्या विश्व हिन्दू परिषद् लखनऊ उत्तर प्रदेश मुंबई गुजरात जम्मू दिग्विजय सिंह मध्यप्रदेश श्रीनगर स्वामी रामदेव मनमोहन सिंह अन्ना हजारे लेख बिहार विधानसभा चुनाव बिहार लालकृष्ण आडवाणी स्पेक्ट्रम घोटाला मस्जिद अहमदाबाद अमेरिका नितिन गडकरी पटना भोपाल सुप्रीम कोर्ट चुनाव कर्नाटक सपा आतंकवाद सीबीआई आतंकवादी पी चिदंबरम ईसाई बांग्लादेश हिमाचल प्रदेश उमा भारती बेंगलुरु अरुंधती राय केरल जयपुर उमर अब्दुल्ला पंजाब महाराष्ट्र हिन्दुराष्ट्र इस्लामाबाद डा़ प्रवीण भाई तोगड़िया मोहन भागवत राष्ट्रमंडल खेल वाशिंगटन शिवसेना सैयद अली शाह गिलानी अरुण जेटली इंदौर गंगा धर्म परिवर्तन हिंदू गोधरा कांड बलात्कार भाजपायूमो मंहगाई यूपीए सुब्रमण्यम स्वामी चीन बी. एस. येदियुरप्पा भ्रष्टाचार साध्वी प्रज्ञा हैदराबाद कश्मीरी पंडित काला धन गौ-हत्या चेन्नई दवा उद्योग नीतीश कुमार शिवराज सिंह चौहान शीला दीक्षित सुषमा स्वराज हरियाणा हिंदुत्व अशोक सिंघल इलाहाबाद कोलकाता चंडीगढ़ जन लोकपाल विधेयक तमिलनाडु नई दिल्ली नागपुर मुजफ्फरनगर मुलायम सिंह रविशंकर प्रसाद स्वामी अग्निवेश अखिल भारतीय हिन्दू महासभा आजम खां उत्तराखंड फिल्म जगत ममता बनर्जी मायावती लालू यादव अजमेर प्रणव मुखर्जी बंगाल विकीलीक्स आशाराम बापू ओसामा बिन लादेन नक्सली मालेगांव विस्फोट अटल बिहारी वाजपेयी अरविंद केजरीवाल एबीवीपी कपिल सिब्बल क्रिकेट तरुण विजय तृणमूल कांग्रेस बजरंग दल बाल ठाकरे राजिस्थान वरुण गांधी वीडियो हरिद्वार गोवा बसपा मनीष तिवारी शिमला सिख विरोधी दंगे सिमी सोहराबुद्दीन केस असम इसराइल एनडीए कल्याण सिंह पेट्रोल प्रेम कुमार धूमल सैयद अहमद बुखारी अनुच्छेद 370 जदयू भारत स्वाभिमान मंच हिंदू जनजागृति समिति आम आदमी पार्टी विडियो-Video हिंदू युवा वाहिनी कोयला घोटाला मुस्लिम लीग छत्तीसगढ़ हिंदू जागरण मंच सीवान

लोकप्रिय ख़बरें

ख़बरें और भी ...

राष्ट्रवादी समाचार. Powered by Blogger.

नियमित पाठक

Google+ Followers